ब्लॉगसेतु

संजय भास्कर
218
 महफूज़ है एक स्टार ब्लॉगर...खुशदीप जी का ब्लॉग पड़कर पता चला  महफूज़ भाई  लापता है   खूबसूरती के मामले में हैंडसम..   लाल टी शर्ट में सजे ये महाशय आखिरी बार सार्वजनिक तौर पर इस महीने की 14 तारीख को जबलपुर में देखे गए....हर तरफ च...
sangeeta swarup
181
कल रात एक विचित्र बात हो गयी स्वप्न में भगत सिंह की आत्मा से मेरी मुलाकात हो गयीज़र- ज़र थी बहुतपीड़ित थी वेदना सेलहू लुहान थी वोअपनों की प्रताड़ना सेविस्मित सी बस मैंदेखे जा रही थीउस आत्मा ने मुझ पर जैसे दृष्टि जमा दी थी बोली हौले से -ऐ मेरे भारतवासी चाहती हूँ बांट...
 पोस्ट लेवल : kavita sahitya( sarwadhikar surakshit )
ललित शर्मा
262
आज नवरात्र पर फ़िर एक गीत लेकर आया हुँ भाई दुकालु राम यादव जी का। आप सुने अद्भुत गीत है आनंद अवश्य आएगा।सिंदुर ला खोजे वो.......गीत-भाई दुकालु राम यादव जी से साभारप्रस्तुतकर्ताशिल्पकार
संजीव तिवारी
64
शहरों में नवरात्रि की धूम चारों ओर है, मंदिरों और माता के दरबार में आरती के बाद जस गीत व सेवागीत गाए जा रहे हैं। शीतला मंदिर, चंडी मंदिर, महामाया, दंतेश्वरी, दुर्गा मंदिर, सहित ग्रामीण क्षेत्र के प्रमुख मंदिरों में दिन रात माता सेवा में भक्त लीन हैं। पुरुषों एव...
अविनाश वाचस्पति
130
यह बातचीत गत वर्ष द्वितीय हरियाणा अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह, यमुनानगर द्वारा प्रकाशित दैनिक बुलेटिन में प्रकाशित हुई थी। उसी का स्‍कैनबिम्‍ब लगाया गया है। इमेज पर क्लिक करके इसे पढ सकते हैं
राजीव तनेजा
186
**राजीव तनेजा*** “ओह्हो…शर्मा आप?..आज ये सूरज अचानक पश्चिम से कैसे निकल पड़ा?…कहिए सब खैरियत तो है?”…“जी…बिलकुल”….“तो फिर आज अचानक…यहाँ कैसे?”…“कैसे क्या?…ये आपके सामने वाले पेट्रोल पम्प से स्कूटर में पेट्रोल भरवा रहा था कि अचानक ख्याल आया कि यहीं सामने वाली बिल्डि...
girish billore
90
..............................
 पोस्ट लेवल : लिमिटि खरे पाडकास्ट
विमलेश त्रिपाठी
299
उनसे हमारा परिचय बस एक पाठक साहित्यकार का था। हमारी नजर में वे हमेशा एक बड़े कथाकार रहे। तमाम साहित्यिक गुटों से परे और बहुत सालों से चर्चा में न रह कर भी वे हमारे दिलों में बड़ा ही बने रहे। कवि मित्र संतोष कुमार चतुर्वेदी ने जब यह सूचना दी, लगभग रात के ग्यारह बजे।...
अजय  कुमार झा
257
  आज खाली कट पिटिया चर्चा …अरे खाली कट पेस्ट यार …..का लुत्फ़ उठाईये ….बस उठाते गए ..चेपते गए …आप भी झेलते जाईये ……. यहां घोषणा हुई कि महफ़ूज़ मियां खो गए …… कहां महफूज़ है एक स्टार ब्लॉगर...खुशदीप कल मैनपुरी से ब्लॉगर भाई शिवम मिश्रा का फोन आया...उन्होंने बड़ी फ...
अविनाश वाचस्पति
130
आप जरूर मिले होंगेचाहे एक बार हीकवि सुमित सेउनके ब्‍लॉग परहो सकता हैहुए हो रूबरू भीदिल्‍ली पुलिस में हैंवैसे कहा जाता हैन दोस्‍ती न दुश्‍मनीपुलिस की होती भलीपर अगर हो कविपुलिस वाला तोटूटती है यह छवि।उपर इमेज पर करें क्लिकऔर जाने कवि सुमित कोउनके बारे में पढ़ेंउनके...