ब्लॉगसेतु

आज आरक्षण की स्थिति यह हैं कि मानो हमारा संविधान कह रहा हैं कि काबिल मत बनो, दलित बनो...कामयाबी झक मारकर पीछे आयेगी!!! महाराष्ट्र शासन ने तो सुप्रीम कोर्ट एवं संविधान की गाईड लाइन को तोडते हुए आरक्षण की सीमा जो कि 50% थी उसे सिर्फ़ वोट बैंक एवं राजनीति की ख़ातिर 76%...
शिल्पा का दस वर्षिय बेटा सुहास आंगण में खेल रहा था। उसने बेटे से कहा, ''तुम आंगण में खेल रहे हो...गैया आई तो ख्याल रख कर मुझे आवाज़ लगा देना...मुझे गैया को रोटी देनी हैं।'' इतना कह कर वो अपने काम करने लग गई। थोड़ी देर बाद ही सुहास की आवाज़ आई, ''मम्मी, गैया आ ग...
मसाला मठरी एक ऐसी मठरी हैं, जिसमें आपको मठरी के साथ-साथ भाकरवडी का स्वाद भी मिलेगा। मतलब two in one नाश्ता! जो बनाना एकदम आसान हैं और स्वाद में लाजवाब हैं! तो आइए, बनाते हैं मसाला मठरी... सामग्री- ingredient for  masala mathri  मैदा गुंथने के लि...
इमेज-गूगल से साभार''इतनी महंगी साड़ी लेने की तुम्हारी हैसियत हैं क्या? क्या तुम्हारे माँ-बाप ने लेकर दिए थे तुम्हें कभी इतने महंगे कपड़े?'' साड़ी की किंमत 4000 रुपए देख कर प्रदीप ने उपेक्षा से शिल्पा से कहा। मॉल में बारिश की सेल में दोनों खरेदी करने आएं थे। वास्त...
 पोस्ट लेवल : कहानी हैसियत साहित्य
मार्केट के बार-बार चक्कर लगाने से बचने के लिए और घर में कब, क्या बनाना पड़ जाएं...कब कौन मेहमान आदि आ जाएं...यह सोच कर हम मार्केट से ज्यादा सब्ज़ियाँ ख़रीद कर ला लेते हैं। लेकिन फ्रिज में भी यदि सब्जियों को सही तरीके से न रखा जाएं तो वो जल्दी ख़राब होने लगती हैं। आइए...
सोशल मीडिया पर इन दिनों न्यूजीलैंड के संसद की एक फोटो वायरल हो रहीं हैं। जिसमें स्पीकर ट्रेवर मलार्ड काम के साथ-साथ बच्चे को गोद में थामे उसे बोतल से दूध पिला रहे हैं। सांसद Tamari Coffey पितृत्व अवकाश के बाद पहली बार अपने एक महीने के बेटे के साथ संसद पहुंचे थे। Ta...
भरवां शिमला मिर्च कई तरह की बनाई जाती हैं, जैसे कि आलू भर कर या बेसन भर कर। आज हम जो भरवां शिमला मिर्च बना रहे हैं वो तरीका एकदम अलग हैं और इस तरीके से बनाने पर तेल भी बहुत ही कम लगेगा। मजे की बात यह हैं की कम तेल के बावजूद  ये बहुत स्वादिष्ट बनती हैं। तो...
दोस्तों, किचन में काम करते वक्त कई बार ऐसी छोटी-छोटी समस्याएं आती हैं जिनका समाधान बहुत ही आसान रहता हैं। जैसे कि दो बर्तन आपस में फंस गए हो और पूरी ताकत लगाने पर भी निकल नहींं रहे हो एवं किचन में चीटियां हो गई हो और हमारे पास चीटी वाला खडू न हो... ऐसे में क्या किय...
''मम्मी, मेरे स्कूल में राखी बनाओं स्पर्धा हैं। उसके लिए मुझे राखी की कोई अच्छी सी डिजाइन बताकर उसे बनाना सिखाओं न...'' सातवी कक्षा में पढ़ने वाली अनिता ने कहा। मैं कुछ बोलती उसके पहले ही सासू जी बोल पड़ी- ''तू क्या करेगी राखी बनाना सीख कर? तेरा तो कोई भाई ही नहीं है...
हम बच्चों को किताबी ज्ञान रटना सिखाते हैं...स्कूल से आया नहीं कि ट्यूशन क्लास भेजते हैं...ढेर सारी अन्य क्लासेस में भेजते हैं ताकि हमारा बच्चा सुपर हीरो बन सके...लेकिन अफ़सोस लाइफ स्किल्स नहीं सिखाते!! नहीं सिखाते कि विपरीत परिस्थितियों में शांत चित्त रह कर मुसीबतों...