ब्लॉगसेतु

      12-13 वर्ष की खेलने-कूदने की उम्र में खेल-खेल में फातिमा अपने अब्बू के ही यहां प्रेग्नेंट हो गई, तो तुरन्त ही उसके अब्बूजान ने पंक्चर पकाने वाले अब्दुल से उसका निकाह करा दिया, कुछ साल बाद अब्दुल ने गुस्से में आकर फातिमा को ट्रिपल...
        किसी मस्जिद में एक नाग एक बिल में रहता था । प्रतिदिन पांच बार नमाज सुनता, प्रतिदिन की तक़रीर भी ध्यान लगाकर सुनता था । एक दिन उसका मन हुआ कि नमाज की जब इतनी महिमा है तो एक दिन मैं भी नमाज पढ़ूं, शायद मुझे भी जन्नत मिल जाए । ...
      जान लीजिये कि मकर संक्रान्ति पर्व अब 15 जनवरी को क्यों आने लगा है ?  जबकि यह वर्ष 2080 तक अब हर वर्ष 15 जनवरी को ही आता रहेगा । विगत 72 वर्षों से प्रति वर्ष मकर संक्रांति हम ...
      सुबह जब में अपने घर से निकला, रास्ते के खंभे पर एक कागज चिपका देखकर जिज्ञासावश उसमें लिखा पढने रुका तो उसमें लिखा था, कल शाम अंधेरे की शुरुआत में मुझ गरीब का आखिरी 50/- रु. का नोट यहीं कहीं गिर गया है जिसे मैं नहीं ढूंढ पा रही हूँ । मेरे लिये व...
       आज सुबह भाईसाहब, भाभीजी के साथ सुबह की सैर  पर निकले, बगीचे के आधे चक्कर के बाद भाभीजी बेंच पर बैठ गई । भाईसाहब कुछ आगे निकल गए थे.. भाभीजी ने उंगली से इशारा कर के भाईजी को बुलाया. भाईजी वापस लौटे, ...
      एक अनुभवी चित्रकार ने अपनी समझ के अनुसार प्रकृति का एक अत्यंत खूबसूरत चित्र बनाया फिर यह सोचकर कि लोगों को इसमें क्या कमी दिख सकती है उस चित्र को एक तूलिका और रंगों की प्लेट के साथ यह नोट लगाकर रख दिया कि यदि आपको इसमें कोई कमी दिखे तो कृपया उस...
        निरंतर बढ रही ठंड के कारण मोबाईल प्रेमी धर्मसंकट में हैं, हाथ के मौजे पहनें तो मोबाईल स्क्रीन काम ना करे और यदि मौजे उतार दें तो उंगलियां काम नहीं करें, बैचारे समझ ही नहीं पा रहे हैं कि क्या करें ?  कोहरा इतना जबर्दस्त चल रहा है कि...
        शादी में दो दोस्त बहुत समय के बाद मिले,  संयोग से एक की शादी थी और दुसरा बाराती ।         दुल्हा बोला- "यार ऐसा कोई ज्ञान दे जो जिंदगी में काम आए"        बाराती दोस्त - "तुम पहले तो नहीं पीते...
       वक़्त फ़िल्म का एक डायलॉग- "चाय की प्याली हाथ में उठा कर मुंह तक तक ले जाते-जाते कई बार बरसों बीत जाते हैं, पोटली रुपयों से भरी हो पर इंसान कभी-कभी भीख मांगने पर मजबूर हो जाता है" । फिल्मी दुनिया में ऐसे कारनामे अक्सर होते रहते हैं, इनमें ए...
                                            दूर से देखा तो बडे ही सुहाने मन्जर थे,पास पहुंचे तो देखा सारे खेत ब॑जर थे !हम उनके पास से भी प्यासे लौटे,जिनकी...