ब्लॉगसेतु

शनिवार की छुट्टी आ गई थी और रविवार को तो होती ही है इसलिए नरूला जी बहुत रिलैक्स थे. सुबह बैंक के लिए तैयार हुए तो बैग भी पैक कर लिया. बैंक जाते हुए रास्ते में मोटरसाइकिल की टंकी फुल करा ली हवा भी चेक करा ली. बैंक पहुँच कर हाजिरी लगाई और ब्रांच के सेकंड मैन के कान म...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
हमारे रीजनल मैनेजर गोयल साब आज झुमरी तलैय्या ब्रांच के दौरे पर हैं. झुमरी ब्रांच को आप छोटा ना समझें सर. है तो गाँव में पर साठ करोड़ का लोन तो अकेले चीनी मिल का है और किसानों के लोन और जमा खाते अलग. ये जरूर है की चीनी मिल छे महीनें बंद रहती है तो काम हल्का हो जाता ह...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
शादी का कार्ड आया है तो तैयारी तो करनी ही पड़ेगी. वैसे भी हमारे गोयल साब को दो साल हो गए बैंक से रिटायर हुए मगर दावत खाने का मौका ही नहीं मिल रहा था. यार दोस्त सब भूल भाल गए कमबख्त बुलाते ही नहीं. और फिर कोरोना ने भी घरबंदी कर रखी...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Buddhism originated in India in 5th century BCE with teachings of Gautam Buddha. Gautam Buddha himself spread the teachings in northern India for about 45 years. Spread of Buddhism reached its peak in the reign of Emperor Ashoka during third century BCE. A few deca...
 पोस्ट लेवल : Vipassana
Ashoka the Great was one of the greatest emperors of India. He ruled from 268 to 232 BCE and his empire stretched from Kandhar, Taxila to Assam, Bengal and from Odisha, Maharashtra to Gujrat on western coast of India. Capital of his Magadha empire was Patliputra or...
 पोस्ट लेवल : Sketches around us
प्राचीन काल से ही धार्मिक, नैतिक और दर्शन शास्त्र के विचारकों का ध्यान इस सवाल पर गया है कि आत्मा क्या है? मृत्यु के बाद जीव का क्या होता है? क्या उसका पुनर्जन्म होता है? या नहीं होता? इसका जवाब शायद धार्मिक मान्यता, श्रद्धा और विश्वास में ही है विज्ञान में अभ...
बैंक के लिए डिपाज़िट इकट्ठा करना ऐसा ही है जैसे किसी फैक्ट्री के लिए रॉ मेटेरीयल इकट्ठा किया जाता है. डिपाज़िट नहीं होगा तो लोन कैसे होगा? इसलिए डिपाज़िट लाने के लिए बहुत सी तरकीबें लगानी पड़ती हैं, स्कीम बनानी पड़ती हैं और घूम घूम कर संपर्क बनाने पड़ते हैं. ये काम तो प्...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
रिटायरमेंट के बाद क्या करें? भारत दर्शन करें और क्या! चलो फिर एक मोटरसाइकिल ले लेते हैं. एक रॉयल एनफील्ड 500 क्लासिक खरीद ली. बड़े शौक से फटफटिया हाईवे पर दौड़ानी शुरू कर दी. दिल्ली से जयपुर, पुष्कर, हरिद्वार, लैंसडाउन की सैर की. पर कुछ ट्रैफिक ने परेश...
 पोस्ट लेवल : Vipassana
शौपिंग चाहे कपड़े की हो या सब्ज़ी की गोयल साब को झंझट का काम ही लगता है. ये बात और है की कपड़े अगर मॉल से लें तो पिकनिक का मज़ा आ जाता है. ए सी हॉल में घूमना हो जाता है और फिर कुछ खाना पीना भी हो जाता है. किसी किसी मॉल में सब्जी और फल की दूकान या काउंटर लगा होता है वहा...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
बैंकों में आजकल लोन के अलावा सोने के सिक्के, इन्शोरेन्स, मेडिक्लैम, म्यूच्यूअल फण्ड भी मिलने लगे हैं. पहले ये सब झमेला नहीं था. अब इसे झमेला ना कह कर  'फाइनेंशियल लिटरेसी' कहा जाने लगा है. याने पैसे कहाँ लगाने हैं और ब्याज ज्यादा कहाँ मिलेगा ये बताया...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते