ब्लॉगसेतु

आदि मानव पत्थरों के हथियार इस्तेमाल करते थे. शिकार करते और जड़ी बूटियाँ और फल खाते थे और एक जगह ना टिक कर ये घूमते रहते थे. धीरे धीरे खेती और पशु पालन की जानकारी बढ़ने के साथ बस्तियां बसनी शुरू हो गईं जो ज्यादातर घाटियों में नदी किनारे थीं. छोटे छोटे ग्रुप या सम...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
भारतीय इतिहास का मध्य काल 700 ईस्वी से 1857 ईस्वी तक माना जाता है. इस युग को भी प्रारंभिक और उत्तर मध्य काल में बांटा जा सकता है. ये विभाजन आम तौर पर सभी इतिहासकारों को मान्य है पर कुछ 900 ईस्वी से मध्य युग का आरम्भ मानते हैं. फिलहाल हमारे सामान्य ज्ञान के लिए विभा...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
इतिहास अगर क्लास में सब्जेक्ट के तौर पर  पढ़ना हो तो भारी लगता है सन और तारीखें भूल जाती हैं. पर फुर्सत में पढ़ें तो किस्से कहानी जैसा मज़ा आता है. रिटायर होने के बाद आजकल फुर्सत है और भारतीय इतिहास के पन्ने पलटने में आनंद आ रहा है. भारतीय उपमहाद्वीप का इतिहास बह...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
दिल्ली से लैंसडाउन की दूरी लगभग 270 किमी है. दिल्ली से मेरठ - कोटद्वार - दुगड्डा होते हुए 6 - 7 घंटे में पहुँच जा सकता है.  कोटद्वार तक सड़क मैदानी है उसके बाद दुगड्डा आता है जहां से आगे ऊँची पहाड़ी घुमावदार सुन्दर नज़ारों वाली सड़क शुरू हो जाती है जो लैंसडाउन / त...
 पोस्ट लेवल : Sketches around Travel
अलेक्सा का नाम टीवी विज्ञापनों में देखा था पर अलेक्सा की शक्ल सूरत पर या कैसे काम करती है इस पर ध्यान नहीं दिया. विज्ञापनों के अनुसार बड़ी जल्दी बात सुनती है और काम कर के दिखाती है. टीवी के विज्ञापन में दिखाते हैं कि जैसे ही बोला जाए 'अलेक्सा गाना सुनाओ' तो गाना बजन...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
दिल्ली से कोटद्वार लगभग 220 किमी की दूरी पर है. इसे गढ़वाल का एक प्रवेशद्वार भी कहा जा सकता है और इस द्वार से पौड़ी, लैंसडाउन और श्रीनगर पहुंचा जा सकता है. खोह नदी के किनारे हिमालय की तलहटी में बसा शहर है कोटद्वार. यहाँ का रेलवे स्टेशन 1890 में बनाया गया था जहां आकर...
 पोस्ट लेवल : Sketches around Travel
हस्तिनापुर में  लक्खी बंजारा की मूर्ति बनाई जा रही है हस्तिनापुर की यात्रा के दौरान पत्थर की मूर्तियाँ बनती देखी थी. एक मूर्ति के बारे में मूर्तिकार से पूछा तो उसने बताया की लक्खी बंजारे की मूर्ति तैयार हो रही है. जब पूछा की ये कौन थे तो उसने बताया की लक्...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
हस्तिनापुर एक छोटा सा पर ऐतिहासिक शहर है जो मेरठ जिले में है. दिल्ली से हस्तिनापुर की दूरी 135 किमी है. यहाँ के जैन मंदिर बहुत ही सुंदर हैं. हस्तिनापुर की मुख्य सड़क पर अमर शहीद उधम सिंह चौक के आस पास बहुत से मूर्तिकार अपना काम करते नज़र आएँगे. छैनी हथौड़ी की आवा...
Rao Jodha King of Jodhpur sitting in his royal throne noticed his eldest son Bika whispering something to his uncle. Rao Jodha casually remarked whether they were conspiring for a kingdom? Bika said yes & Rao Jodha agreed to provide him assistance and legitimis...
 पोस्ट लेवल : Sketches around Travel
Charminar is famous landmark of Hyderabad. Foundation of the Charminar was laid down in the year 1589 by Mohammad Quli Qutb Shah who was fifth ruler of the Qutb Shahi dynasty. Shah is said to have prayed here for eradication of cholera which was taking heavy toll o...
 पोस्ट लेवल : Sketches around Travel