ब्लॉगसेतु

             दोस्ती याद है मुझे आज भी वो तेरा मुझसे मिलना,साथ में खेलना और फिर यूं ही लड़ना।याद है मुझे मेरा रूठना और तेरा मनाना,टीचर की डांट से मुझे बचाना और फिर खुद ही डांट  खाना। याद है मुझे दोस्ती की वह अपनी कसम...
                                          एक ख्याल .... यूँही   मैंने अक्सर देखा  है लोगो को किसी मुद्दे पर अपनी बात  रखते  हुए, उ...
ख्वाहिशों  का  कोई  आसमां   नहीं   होता ,आशाओं   से   भरी   इस  दुनिया   में ,हसरतों   की  कोई  गहराई   नहीं   होती |कभी -कभी   नाम&nbs...
मेरा  एहसास ख्वाहिश  नहीं  मुझे  सितारों  की ,मेरा  चाँद  तोह  ज़मीन  पर  ठहरा  है। खयालो  में  डूबा  ये  मन  मेरा ,तेरी  यादों  का  बस  इनपे  पहरा&nbs...
                                                                   मेरी  पहचान  ...
हाय ! ये  मेरा  दिल कोई  तो  समझा  दो  मेरे  दिल  को,जुदाई  में  ये  क्यों  इतना  सिसकता  है। अपने  जब  बेगाने  हो  जाते  है। तो  ये  बेगानो &nbs...
लड़खड़ाया  सा  दिख  रहा  हूँ     मंज़िल  से  अब  भी  दूर  खड़ा  हूँ पर  अभी  हारा  नहीं  हूँ  मैं।।मज़बूरियो  में  जकड़ा  हुआ  हूँ      थका -...
जिंदगी  की   दौड़  में  भागते   चलोकभी  रुकना   नही ,कभी   थकना   नहीं।पीछे   रहना   अगर   फितरत   है   तुम्हारीतो   बदलनी  होगी   अपनी   ये   कहानी।दुनिया   तो...