ब्लॉगसेतु

इसका कोई प्रामाणिक दस्तावेज सम्भतः नहीं दिख...
लघुत्तम कथा: मैग्सेसे माटसाबहमारे गांव में &#2319...
लघुत्तम: #TwoLinersभीतर जो धधक रहा होशायद कुछ पक रहा हो...
Courtesy by Google.Imageजोगी ने ऐसे जेश्चर तो नहीं दिए, पर सोनिया की आमद से खुश जरूर होंगे!  बरुण सखाजी2019 के लोकसभा चुनाव छोड़ दें तो छत्तीसगढ़ की सियासत में अजीत जोगी हासिए पर कभी नहीं गए। राज्यगठन से 2018 तक जोगी सियासी चर्चा के केंद्र में सदा रहे हैं। लेक...
Courtesy by Google.Imageबरुण सखाजीकांग्रेस की नई कमान बरास्ता अंतरिम फिर 10 जनपथ के हाथ में है। यह आम के पेड़ में आम लगने जैसा ही निश्चित था। अभी तक एक बात सही मानी जाती थी कि फैमिली पार्टी में पकड़ नहीं छोड़ना चाहती, हार-जीतें जो हों सो हों। मगर अब दूसरी बात भी सह...
सीन-1(एक फ्रेम में एंकर, दूसरे में श्मशान घाट के कर्मकांडी, तीसरे में कर्मकांड विशेषज्ञ, चौथे में विपक्षी दल, पांचवे में सत्तापक्ष)एंकरःनमस्कार, आज की बड़ी खबर में आपका स्वागत है। क्या गुफराना को मिलेगा स्वर्ग या कि जाएंगी नरक। आज की बड़ी खबर में हम इसी बात पर चर्च...
सबकी तो सालभर बुझाती होअबकी अपनी बुझा लोचंड&#2368...
साभारः गूगलभाई इमेजवाले। एडिटेड।बरुण सखाजी70 साल से भारत की संप्रभुता को मुंहचिढ़ाती धारा-370 का खात्मा खुशी की बात है। यह काम मोदी के नेतृत्व वाली सरकार में हुआ, क्योंकि दूसरी किसी सरकार में हो नहीं सकता था। इसलिए स्वाभाविक लोगों को अपेक्षा भी इन्हीं से थी और विश्...
मायावती देश की एक बड़ी नेता हैं। वे किसी वंश से &#...
कश्मीर का मौजूदा हाल और माहौल कांग्रेस ने इत&#234...