ब्लॉगसेतु

ऑकलैंड (न्यूजीलैंड) .विगत 23 दिसंबर 2016 से 01 जनवरी 2017 के बीच न्यूजीलैंड के ऑकलैंड, हेमिल्टन, रोटोरूआ आदि शहरों में आयोजित सातवें अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर्स सम्मेलन में फिजी के शिक्षा मंत्रालय के हिन्दी प्रतिनिधि श्री रमेश चन्द्र, बिहार विधानसभा के अध्यक्ष श्री विज...
जैसा कि आप सभी को विदित है कि विगत दस वर्षों मे परिकल्पना परिवार ने अपने दो महत्वपूर्ण साथियों को खोया है। एक डॉ अमर कुमार और दूसरे अविनाश वाचस्पति । इन दोनों शख़्सियतों का जाना किसी करिश्मे का ख़त्म होने जैसा रहा है। उन दोनों विभूतियों के अचानक अलविदा कह देने...
 पोस्ट लेवल : परिकल्पना सम्मान
With profound grief and sadness, we regret to inform you the sad demise of our beloved  Shri Avinash Vachaspati  (s/o Lt shri Dinesh Chander Vachaspati) who left for heavenly abode on 8th February 2016. Avinash vachaspati ko shradhanjaliShoksabha and Rasa...
जी हाँ, मैं वही अविनाश हूँ जिसने बीमारी की गोद में बैठकर जिंदगी के साथ खूब आँख-मिचोनी खेला और अब लोग कहते हैं कि मैं मर गया हूँ। मैं मरा नहीं, जिंदा हूँ आपकी-उनकी-सबकी यादों में...। मैं जिंदा रहूँगा उन लोगों के बीच जिन्हें मैंने जान से ज़्यादा प्यार किया है और जिनसे...
ब्लॉगिंग सभा सञ्चालन में अविनाश वाचस्पति नुक्कड़ भी अचानक से , यूँ अनाथ हो गया ! ऐसा भी क्या हुआ, ये चमन ख़ाक हो गया !अविनाश के जाते ही,कुछ सुनसान सा लगे ब्लॉगिंग में मुन्नाभाई भी, इतिहास हो गया !कितने ही दिन से लड़ रहा था मौत स...
कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनके विचार तो महान होते हैं, पर जीवन महान नहीं होता। कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनका जीवन तो महान होता है, पर विचार महान नहीं होते। लेकिन विरले ही सही एक व्यक्ति ऐसा मिल ही जाता है, जिसके जीवन और विचार दोनों महान होते हैं। ऐसा ही थे अविनाश वाचस्पति...
 पोस्ट लेवल : श्रद्धांजलि
आपका प्रकाश एन जी ओ का प्रतीक चिन्‍ह#‪#‎वात्‬‍सल्‍यनिर्झरवायु चिकित्‍साएयर सर्जरीसंभव हैमेधा सेकिए जाते हैंसभी चमत्‍कारसमझते हैं हमचमत्‍कारपर न उसमेंचमक होती हैपर न होती हैउसमें कारकी चमकारकार के मायनेजो समझते हैंचौपहिया वाहनपर करते हैं सवारीजबकि कार काजीवन कार्यका...
 ##SunMonआज सिर्फ १३ दिसम्बर ही नहींसन यानी सूर्य दिवस भी हैमन मतलब मन का दिवस भी हैवैसे आने वाले कल मायने १४दिसम्बर २०१५ को जन्मदिनके ५७ बरस पूरे होने को हैंऔरमेरे शरीर से क्रानिक हेपेटाइटिससी ने सी फोर चिपटन से दे दी हैमुक्तिअब अपना रहा हूँ युक्ति ताकिकमजोरी...
 पोस्ट लेवल : Avinash Vachaspati birthday 57th birthday
##FutureGeneraliबड़ा बाजार का नाम सुना है सुना नहीं होगा तो पढ़ा जरूर होगा दैनिक अखबारों के पन्‍नों पर बड़ा बाजार में लगती है बड़ी सेल बड़ा बाजार यानी बिग बाजार स्‍वामी हैं इसके किशोर बियाणी बाजार बड़ा कीमतें मस्‍त खरीदारों को बनाए चुस्‍त फुर्ती अाए खरीदारी करवाएबच...
हंसने रोने की कविता कभी जोर जोर से हंसती है और कभी उससे भी जोर से रो पड़ती है दया भाभी की तरह। पर कितना भी वह रो या हंस जाए तारक मेहता का चश्‍मा उल्‍टा ही रहता है। इस उल्‍टे चश्‍मे की एक झलक देखने के लिए और खुद को छिपाने के लिएबोल बच्‍चन से लेकर सलमान खान और चोटी...