ब्लॉगसेतु

प्रिय दोस्तो , मैं फ़िर से उपस्थित हूँ अपनी एक छोटी सी नई कहानी के साथ , जिसका शीर्षक है .... हर बुराई में एक अच्छाई       एक बार एक किसान था , जिसका नाम था मलनाथ । उसके घर से थोडी दूरी पर खेत में एक कुआँ था । मलनाथ के पास दो मटके थे और वह  ...
LMü sÉQûMüÉ jÉÉ , ÎeÉxÉMüÉ lÉÉqÉ jÉÉ  qÉÉkÉuÉ | uÉWû oÉWÒûiÉ WûÏ vÉæiÉÉlÉ oÉccÉÉ jÉÉ , AmÉlÉÏ qÉqqÉÏ MüÐ oÉÉiÉ MüpÉÏ lÉWûÏÇ qÉÉlÉiÉÉ jÉÉ | ExÉMüÐ qÉqqÉÏ ExÉå ÌMüiÉlÉÉ xÉqÉfÉÉiÉÏ , sÉåÌMülÉ uÉWû xÉqÉfÉiÉÉ WûÏ lÉWûÏÇ | ExÉMüÐ OûÏcÉU pÉÏ ExÉMüÐ ÍvÉMüÉrÉiÉ MüUiÉÏ...
एक बेबी रेबिट था । उसे एक चाक्लेट मिली । उसनें वह चाक्लेट अपनी मम्मी को दे दी । उसकी मम्मी बहुत हैपी हुई ।फ़िर मम्मी नें बेबी रेबिट से पूछा " तुम क्या लोगे " तो बेबी रेबिट नें कहा " मुझे कैरेट चाहिए "। पर मम्मी के पास तो कैरेट नहीं था ।वो कैसे देती ? फ़िर...........फ़...
 पोस्ट लेवल : बेबी रेबिट
नमस्कार दोसतो , आज लगभग दो माह बाद मैं फ़िर से आया हूं आपके लिए लेकर एक नन्ही सी कविता । कल जब हम स्कूल जा रहे थे तो रास्ते में बारिश होने लगी तो मैनें मम्मी को एक कविता सुना दी , आप भी पढिए । हां मुझसे चिमटा-चिमटा का मतलब मत पूछिएगा , वो तो मुझे क्या मम्मी को भी नह...
पिऊं दूध और खाऊं मलाई अच्छी लगती मुझे मिठाई थोडा-थोडा बढता जाता हर दिन हीरो बनता जाता 
नमस्कार दोसतो ,आज गणेश चतुर्थी है न तो मुझे मम्मी नें गणेश जी की एक बहुत अच्छी कहानी सुनाई । मैं आपको भी सुनाऊं ----गणेश जी की दुनिया एक बार गणेश जी अपने बडे भाई कार्तिकेय के साथ खेली-खेली कर रहे थे , तो दोनों भाई फ़ाईट करने लगे ।फ़ाईट.....पर क्यों ?क्योंकि गण...
, आपको कान्हा की पहले मैंने दो कहानियां सुनाई न और आप सबको अच्छी भी लगीं | मैं आप सब का आभारी हूँ कि आपको मेरी कहानियां पसंद आ रही हैं | अब कान्हा की एक और कहानी सुनाऊँ | एक बार कान्हा घर में अपनी मम्मी के पास खेली-खेली कर रहा था तो उसनें बाहर से आवाज सून...
एक क्रो (कौआ ) था , वह दूर तक फ़्लाई कर रहा था । फ़्लाई करते-करते उसे बहुत भूख भी लगी और प्यास भी लग रही थी । पर वह क्या करता ?फ़िर उसनें पता है क्या देखा ?क्या देखा...?उसनें बंटी को देखा ।कौन बंटी ..?बंटी जो छत पर पतंग उडा रहा था । और पतंग उडाते-उडाते उसकी पतंग कट...
 पोस्ट लेवल : क्रोअ और बंटी
एक न छिपकली थी , उसके बहुत सारे फ़्रैण्डस थे ।पता है उसके फ़्रैण्ड्स कौन थे ?कौन थे ...?चूहे...... चूहे छिपकली के फ़्रैण्डस थे ...?हां , और वो सब मिलकर रहते थे । उनके घर के पास न एक स्नेक भी रहता था ।उन्हें डर नहीं लगता था स्नेक से ।लगता था , स्नेक हर रोज चूहो...
 पोस्ट लेवल : छिपकली और चूहे
एक बार मम्मी किचन में खाना बना रही थी और पता है क्या हुआ ?क्या हुआ ......?मम्मी नें प्रेशर कुक्कर खोला तो उसमें से क्लाऊडस निकलने लगे ।फ़िर...........?फ़िर पता है वो क्लाऊड्स ऊपर फ़्लाई कर गए । फ़्लाई करते-करते वो बहुत ऊपर चले गए ।फ़िर क्या हुआ.......?फ़िर ऊपर एक औ...