ब्लॉगसेतु

गेटवे ऑफ इंडिया पर हमलोग रात 8 बजे पहुंचे हैं। हमारी ट्रेन रात 12 बजे मुंबई सेंट्रल से है। हमने एक टैक्सी वाले से बात की। हमें बबूलनाथ मंदिर जाना है। मुंबई में टैक्सी वाले मीटर से चलते हैं। तो हमलोग एक टैक्सी में बैठ गए। उन्होंने हमें बबूलनाथ मंदिर के प्रवेश द्वार...
 पोस्ट लेवल : TEMPLE MAHARASTRA
हमलोग पुणे से मुरुड जंजीरा सड़क मार्ग से आए थे, पर वापसी में हमलोग जल मार्ग से मुंबई जाएंगे। यह एक रोमांचकारी अनुभव होने वाला है। दरअसल अलीबाग से मुंबई जलमार्ग के रास्ते से सड़क की तुलना में काफी नजदीक है। अगर आप अलीबाग से गेटवे ऑफ इंडिया सड़क मार्ग से जाएं तो 5 घं...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA TRAVEL
मुरुड में जंजीरा किला के अलावा दूसरा आकर्षण समंदर में बना कासा का किला भी है। पर इस किले तक जाने के लिए आपको आरक्षित बोट का सहारा लेना पड़ेगा। यह किला मुरुड से 9 किलोमीटर की दूरी पर समंदर में है। यहां नाव आने और जाने के लिए 1500 से 2000 रुपये तक किराया हो सकता है।...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA GOOD FOOD
भारत देश के कई अजूबों के बारे में आपने सुना होगा। पर क्या आपने जंजीरा के किले के बारे में सुना है। समंदर के बीच में बना यह किला अपने आप में अजूबा है।एक जनवरी की सुबह हमलोग जंजीरा के किले की तरफ चल पड़े हैं। किले पानी के बीच है इसलिए यहां तक पहुंचने के लिए स्टीमर चल...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA WONDERS OF INDIA
महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले का छोटा सा शहर मुरुड में हमलोग 31 दिसंबर को पहुंचे हैं। नए साल का जश्न मनाने के लिए यहां सैलानियों की काफी भीड़ है। शहर के सभी होटल हाउसफुल हैं। हमारी बुकिंग काफी पहले से थी इसलिए हमें कोई दिक्कत नहीं हुई।दत्त मंदिर से लौटकर हमलोग मुरुड के...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA
मुरुड जंजीरा के कई आकर्षण हैं, पर उनमें से दत्त मंदिर भी एक है। ये मंदिर बाजार से एक किलोमीटर दूर ऊंची पहाड़ी पर है। यहां से शहर और समंदर का सुंदर नजारा दिखाई देता है।यह मुरुड जंजीरा का सबसे प्राचीन मंदिर है। यह तकरीबन 350 मीटर ऊंची एक पहाड़ी पर स्थित है। मुरुड के...
 पोस्ट लेवल : TEMPLE MAHARASTRA
अलीबाग में हमारी बस से काफी लोग उतर गए हैं। तो बस खाली खाली लग रही है। अलीबाग डिपो में बस ने ईंधन लिया। हमने भी आसपास से थोड़े फल खरीदे। वैसे आपको पता है अलीबाग को महाराष्ट्र का गोवा कहते हैं। अलीबाग रायगढ़ जिले के कोंकण क्षेत्र में स्थित महाराष्ट्र के पश्चिमी...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA GOOD FOOD
कई साल पहले फेसबुक पर एक मित्र ने मुंबई के पास मुरुड में समंदर के बीच स्थित जंजीरा किला की तस्वीर साझा की थी। तभी से वहां जाने की इच्छा थी। तो इस बार पुणे से हमने मुरुड जाना तय किया। वैसे दूरी के लिहाज से मुरुड पुणे की तुलना में मुंबई के निकट है। पर हमारी यात्रा पु...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA TRAVEL
अगर पंजाब पांच दरिया का देस है तो पुणे पांच नदियों का शहर है। मुला, मुथा, पावना, इंद्रायणी और भीमा। पर ये पांच नदियां मिलकर आजकल पुणे को समृद्ध नहीं बना पा रहीं हैं। क्योंकि इन जीवन दायिनी नदियों को अमृतजल की कद्र करना भूल गए हैं।इंद्रायणी नदी के तट पर संत तुकाराम...
 पोस्ट लेवल : MAHARASTRA WATER
आलंदी में संत ज्ञानेश्वर की पवित्र धरती पर कुछ घंटे गुजारने के बाद हमलोग अब मराठी के एक और महान विभूति संत तुकाराम की स्मृतियों को नमन करने निकल पड़े हैं। पुणे के देहु रोड में संत तुकाराम की याद में विशाल गाथा मंदिर बना है।आलंदी से गाथा मंदिर देहु रोड जाने के लिए ह...
 पोस्ट लेवल : TEMPLE MAHARASTRA