ब्लॉगसेतु

हुज़ूर के चैंबर से इन्कलाब दहकने आया गुलाब की क्यारियों में इत्र महकने आयान था वक्त, मिला भी तो तुम न मिले –कुछ यादों के लिफ़ाफ़े थे, पटकने आया !अब तो बस मौत तेरा इंतज़ार है मुझको आख़िरी लौ की मानिंद चमकने आया !!यूँ तो उससे भी कह देता रूबरू उसके लुफ्त आए है  क्या ?...
(1) ज़्यादातर मौलिक नहीं“सोच”  सोच रहा होता हूँ सोचता भी कैसे प्रगतिशीलता के खेत में मौलिक सोच की फसल उगती ही नहीं . (2) सोचता हूँ गालियाँ देकर उतार लूं भड़ास ..?पर रोज़िन्ना सुनता हूँ तुम गरियाते हो किसी को बदलाव फिर भी नज़र नहीं आता !! (3)जिस दूकान प...
 पोस्ट लेवल : कविताएँ
साभार :- भास्कर मृत्युभोज खाने से ऊर्जा नष्ट होती है जिस परिवार में विपदा आई हो उसके साथ संकट की घड़ी मे जरूर खडे़ हो और तन,मन,और घन से सहयोग करे पर मृतक भोज का बहिष्कार करेंमहाभारत युद्ध होने का था, अतः श्री कृष्ण ने दुर्योधन के घर जा कर युद्ध न करने के...
 पोस्ट लेवल : मृत्युभोज
रोज़ हालात रंजिश के  बनाते क्यों हो ....?सुलह करने  मुंसिफ तलक जाते क्यों हो .?चूमते पंखुरी चुभ जाएं हैं कांटे तुमको ऐसे फूलों से गुलदान सजाते क्यों हो ?मेरे किरदार में शामिल हो मुझसे ज़्यादा तोहमतें मुझपे अक्सर लगाते क्यों हो ?चैन से रहने दो उनको क़यामत के...
"भारतीय संविधान में स्वतंत्रता का अधिकार मूल अधिकारों में सम्मिलित है। इसकी 19, 20, 21 तथा 22 क्रमांक की धाराएँ नागरिकों को बोलने एवं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सहित ६ प्रकार की स्वतंत्रता प्रदान करतीं हैं। ...
सुश्री दक्षिणा  वैद्यनाथन  17 सितम्बर2015 को अपरान्ह 3 बजे से  Bal Bhavan Jabalpur में अपनी प्रस्तुति देंगी...... Balbhavan Jabalpur में आपका स्वागत है #dakshina_vaidyanathan  https://www.facebook.com/dakshina.vaidyanathan      &n...
Milind Sheorey is a name to reckon with when it comes to the Bansuri in today’s world of Indian Classical Music.Milind was born in Jabalpur in a family of music lovers. His grandfather and his father loved music, and his mother was a poet and dedicated singer.&nbsp...
 पोस्ट लेवल : Milind Sheorey Bansuri
वॉशिंगटन में  10 सितम्बर 2015 को  भारतीय मूल की अमेरिकी रचनाकार नीलांजना सुदेशना लाहिड़ी को  प्रेस्टीजियस नेशनल ह्यूमैनिटीज मेडल से गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सम्मानित किया . नीलांजना जिन्हें  झुंपा के नाम से जाना जाता है  ...
..............................
..............................