ब्लॉगसेतु

भाजपा नेता अनुराग ठाकुर हों या योगी आदित्‍यनाथ, वे किसी भी तर्क से गोली मारने की बात कैसे कर सकते हैं। और अगर करते हैं तो समाज में बढती हिंसक घटनाओं की जिम्‍मेदारी से कैसे बच सकते हैं। चुनाव के दौरान कुछ मतों के लिए आप सीधे-सादे लोगों का दिमाग उत्‍तेजित कर देते...
ग्‍लोबल विलेज यानि विश्‍व ग्राम के देवता अब कूच करने लगे हैं। यहां अब कोई सुरक्षित नहीं है। कुछ बीमार लोग एक शहर, एक राज्‍य, एक मुल्‍क को कभी भी जेल और नर्क में बदल सकते हैं और सोचनेवाली बात यह है कि इसमें उन बीमारों का कोई दोष नहीं होगा। सिवा इसके कि वे किसी द...
Dainik Bhaskar Jan 30, 2020नई दिल्ली. जामिया के पास नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ रैली से पहले गुरुवार को युवक ने फायरिंग की। इस युवक का फेसबुक प्रोफाइल में नाम रामभक्त गोपाल है। सोशल मीडिया पर इस घटना को लेकर तीखी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। ट्विटर में "टेररि...
लालसा सन्यास के पद गुनगुनायेचाटुकारी जब रचे उपसर्ग प्रत्ययतुष्ट होकर अहम सजधज मुस्कुराये। वर्तमान समय की राजनीतिक उलटबांसी और उससे पैदा होती विडंबना को ये गीत ताकतवर और अर्थपूर्ण ढंग से अभिव्‍यक्‍त करते हैं। संस्‍कृतनिष्‍ठ शब्‍दों का इतना मारक प्रयोग वह भी गीतों...
 पोस्ट लेवल : कल्‍पना मनोरमा
ऋतु मेहरा की कविताएं आपाधापी भरे जीवन और प्रकृति के विस्‍तृत वितान के मध्‍य एक तालमेल बिठाने का प्रयास करती कविताएं हैं। कवयित्री को तमाम लोगों की तरह सुकून की तलाश है जिसे अपनी कविता में अभिव्‍यक्‍त करती वह लिखती है -नंदा के भाल पर सजे सूर्य कोहक से कहा जाए - थ...
 पोस्ट लेवल : ऋतु मेहरा
 पुराण मतलब नया जो पुराना हो गया   पुराण शब्‍द तो सबने सुना होगा पर इसके अर्थ पर शायद ही विचार किया होगा। यह पुरा न है। मतलब पहले जो नया था और अब पुराना हो गया है वह हुआ पुराण। पुराणों में वैदिक मंत्रों की ही व्‍याख्‍याएं हैं, पुराने वैदिक मंत्र य...
तनूनपात मतलब गौ का पोता  वैदिक संस्‍कृत में प्रयुक्‍त शब्‍दों को देख यह पता चलता है कि उसके पूर्व के काल में शब्‍द किस सहजता से आकार ले रहे थे। उनका निर्माण जीवन की सहज क्रिया की ओर हमारा ध्‍यान ले जाता है। जैसे कि तनूनपात शब्‍द है। तनु का एक मतलब गाय होता...
22 जून 2013 अनंत कुमार सिंह, अच्युतानंद मिश्र और कुमार मुकुल की किताबों पर  एक निगाह एक ऐसे दौर में जब अखबारों के संपादक प्रगतिशील जनवादी आकांक्षाओं वाले साहित्य को छापने के बजाए उसका उपहास उड़ाने को अहमियत दे रहे हों और पूरी नई पीढ़ी के भीतर सर्वनकार और आत्मश...
वराह मतलब जो उत्‍तम आहार लेता हो  वैदिक संस्‍कृत में वराह का मतलब होता है जो उत्‍तम आहार लेता हो। यास्‍क के अनुसार मेघ वराह है क्‍योंकि यह जल जैसा उत्‍तम भोजन करता है। उत्‍तम आहार करने वाला ब्राहृमण की भी एक उपाधि वराह है। जमीन से उत्‍तम कंद-मूलों को खोद...
 पोस्ट लेवल : मंगल वराह यज्ञ
सिंह मतलब संहाय  यास्‍क रचित निरूक्‍त में प्रस्‍तुत वैदिक शब्‍दों की व्‍युत्‍पत्तियों से गुजरना रोचक है। उससे पता चलता है कि वैदिक काल के पूर्व किस तरह शब्‍दों ने आकार पाया होगा। जैसे कुएं के लिए प्रयुक्‍त शब्‍द कूप की व्‍युत्‍पत्ति है - कू प। मतलब जिससे पा...