ब्लॉगसेतु

स्नेहिल अभिवादनके साथ प्रस्तुत है आज की चर्चा। देश क्या विश्वभर में कल आये सुप्रीम कोर्ट के 134 साल पुराने अयोध्या के राम मन्दिंर और मस्जिद विवाद पर निर्णय की चर्चा गर्म है। सुप्रीम कोर्ट ने समझदारी भरा निर्णय देते हुए देश में एक बड़े विवाद को समाप्त करने...
स्नेहिल अभिवादनरिश्ते समाज का ताना- बाना होते हैं। रिश्तों में समाहित मूल्य उनमें पवित्रता का भाव उत्पन्न करते हैं। आजकल रिश्तों में मिठास को पलीता लगाने कमवक़्त  मुई औपचारिकता आ धमकी है।दरअसल औचारिकताएं हमारे जीवन का एक बड़ा हिस्सा बन रहीं हैं तब हम रिश्...
 स्नेहिल अभिवादन। पृथ्वी का अस्तित्त्व ख़तरे में है यह बात हम लंबे समय से सूचनाओं के ज़रिये देखते-सुनते आ रहे हैं लेकिन अब 153 देशों के वैज्ञानिकों ने घोषित किया है कि पृथ्वी पर आबोहवा अब आपातकालीन स्थिति में है। अब सवाल यह है कि पर्यावर...
 पोस्ट लेवल : अनीता लागुरी 'अनु'
मित्रों!गुरुवार की चर्चा में आपका स्वागत है।देखिए मेरी पसन्द के कुछ अद्यतन लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') --चर्चा के क्रम में सबसे पहले देखिएमेरे कुछ दोहे- दोहे  "लिखने का है रोग उच्चारण --हिन्दी-आभा*भारत पर चर्चा मंच के चर्...
मित्रों!बुधवार की चर्चा में आपका स्वागत है।देखिए मेरी पसन्द के कुछ अद्यतन लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') --सबसे पहले देखिए मेरी यह ग़ज़लग़ज़ल  "ख़ुदगर्ज़ी का हुआ ज़माना"  उच्चारण --गूँगी गुड़िया पर अनीता सैनी जी सदैव मौज...
मित्रों!मंगलवार की चर्चा में आपका स्वागत है।देखिए मेरी पसन्द के कुछ अद्यतन लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') --आज की चर्चा में सबसे पहले देखिए! मेरी एक बाल कविता- बाल कविता  "मेरी प्यारी पोती"  उच्चारण --आदरणीय शशि गु...
सादर अभिवादन। "सीने में जलन और आँख में तूफ़ा-सा क्यों है।   इस शहर में हर शख़्स परेशान-सा क्यों है।।"  फ़िल्म 'गमन' (1978) की एक ग़ज़ल का शेर जिसे मशहूर शायर शहरयार साहब ने क़लमबद्ध किया जो आज दिल्ली की जनता के हालात बयां करता हुआ जी उठ...
स्नेहिल अभिवादन।     अंधी दौड़ में कुछ लोग अपना आसमान सुनिश्चित करने में भूल ही जाते हैं कि  उनके पीछे एक भावी पीढ़ी चल रही है।   वह भावी पीढ़ी गहन अध्ययन और अनुसंधान के ज़रिये कुलीन पीढ़ी की धूर्तता को उजागर कर...
स्नेहिल अभिवादन !  त्यौहारों के रंगों से सजे अपने देश में छठपर्व का शुभारंभ हो गया है ।31अक्टूबर से प्रारम्भ होकर 3 नवंबर तक चलने वाले छठपर्व  की खास रौनकबिहार,झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश में अधिक देखने को मिलती है । इस महापर्व में सूर्य देव और षष्ठी म...
सादर अभिवादन।चर्चामंच की मेरी पहली प्रस्तुति में आपका हार्दिक स्वागत है। अब मैं हरेक शुक्रवार आपसे मुखातिब होते हुए नई नवेली रचनाओं के माध्यम से हाज़िर हुआ करूंगी। चर्चामंच पर आकर आपके समक्ष पहली प्रस्तुति के साथ बहुत रोमांचित हूं।आज नवम्बर का पहला दिन और गुनगुनी ध...
 पोस्ट लेवल : अनीता लागुरी 'अनु'