ब्लॉगसेतु

Lavni folk artist life मौसम रुहानी था, आसमान में बादल घुुमड़ रहे थेे। ठंडी-मद्धम हवा बह रही थी। दिलली के स्टेन ऑडिटोरियम में घुप अंधेरा था। दर्शक सीट से चिपककर बैठेे थेे। थोेड़ी देर में स्टेज नीली मद्धिम रोशनी से नहा उठती है। एवं बाद में सफेद रोेशनी स्टेज पर ए...
 पोस्ट लेवल : Lavnifolkartistlife
रामराज्य में सीता का ‘विलाप’मर्यादा पुरुषोत्तम राम ने जब सीता से अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा होगा तो उन्होंने कैसे रिएक्ट किया होगा?उनके जेहन में कौन से सवाल उठे होंगे?जब मां सीता को बिना बताए, वन में छोड़ा गया तो उस समय उनके दिल पर क्या बीती होगी? आखिर क्यो...
 पोस्ट लेवल : delhitamilsangam bhratnaatyam sitayana