ब्लॉगसेतु

ज्योति  देहलीवाल
12
क्या करवा चौथ का व्रत करने से पति की उम्र बढ़ती है? दोस्तो, आपको क्या लगता है? क्या सच में पति की उम्र बढ़ती है? यदि हां, तो फिर भारत के पुरुष सबसे ज्यादा उम्र तक क्यों नहीं जीते? और यदि ना, तो फ़िर महिलाएं ये व्रत क्यों करती है? आइए, जानते है क्या है सच्चाई...मतलब पत...
ज्योति  देहलीवाल
12
राजस्थानी समाज के लोग सावन (Sawan) महीने के कृष्ण पक्ष की पंचमी को नाग पंचमी (Naag Panchmi) मनाते है, तो महाराष्ट्रीयन लोग सावन महीने की शुक्ल पक्ष की पंचमी को नाग पंचमी मनाते है। सदियों से नागपंचमी के दिन सांपों को दूध पिलाने की परंपरा चली आ रही है। मान्यता है कि...
ज्योति  देहलीवाल
12
दोस्तों, जैसे ही सावन का महीना आता है, सोशल मीडिया पर शिवलिंग पर दूध चढ़ाने का समर्थन करनेवाली और विरोध करनेवाली पोस्ट्स छाने लगती है। धार्मिक लोग शिवलिंग पर दूध चढ़ाने का समर्थन करते है, तो तर्कशील लोगों का कहना होता है कि हजारों लीटर दूध व्यर्थ बहाने की बजाय उतना द...
MediaLink Ravinder
428
 हिंदुस्तान के लोग अंधविश्वासी आस्तिक हैं-ओशो सोशल मीडिया//Whats App//28 जून 2020:(आराधना टाईम्ज़ रिसर्च डेस्क)::ईश्वर को मानने वाला भी अंधविश्वासी हो सकता है, ईश्वर को न मानने वाला भी उतना ही अंधविश्वासी, उतना ही सुपरस्टीशस हो सकता है। अंधविश्वास की परिभा...
ज्योति  देहलीवाल
12
मेरे घर पर एक परिचिता आई हुई थी। उसने मुझ से कहा, ''ज्योति, तुम मटके पर लोटा औंधा क्यों रखती हो? मटके पर लोटा औंधा नहीं रखना चाहिए। लोटे में थोड़ा सा ही सही लेकिन पानी जरुर रखना चाहिए। नहीं तो अपशकुन होता हैं!'' ''मटके पर लोटा हम अपनी सुविधानुसार कैसे भी रखे, उ...
mahendra verma
277
पिछले दिनों भूतविद्या समावार पत्रों की सुर्खियाँ बनी रहीं । कुछ ने इसे भूत-प्रेत से संबंधित बताया तो कुछ ने इसे मनोचिकित्सा से संबंधित विद्या कहा । कुछ अतिउत्साही लोगों ने तो इसे पंचमहाभूतों की विद्या भी बता दिया । चूंकि भूतविद्या आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति से संबंधि...
ज्योति  देहलीवाल
12
दुनिया में ऐसे कई वैज्ञानिक, डॉक्टर और इंजीनियर जैसे पढ़े-लिखे लोग हैं, जिनका मन बिल्ली के रास्ता काटने पर आज भी शंकाग्रस्त हो उठता हैं कि कहीं कोई अनहोनी तो नहीं होगी? घर से निकलते वक्त छींक आने पर मन में आशंका होने लगती हैं कि कुछ अमंगल तो नहीं होगा? अंधविश्वास सि...
 पोस्ट लेवल : अंधविश्वास धार्मिक
Sanjay  Grover
405
यह अद्भुत है।कबीरदास जो जिंदग़ी-भर अंधविश्वासों का विरोध करते रहे उनकी जब मृत्यु हुई तो उनके हिंदू और मुस्लिम शिष्य उनका अंतिम संस्कार अपने-अपने तरीक़े से करने के लिए लड़ने लगे। जब उन्होंने लाश पर से चादर हटाई तो नीचे से फूल निकल आए जिन्हें शिष्यों ने आधा-आधा बांट लिय...
ज्योति  देहलीवाल
12
क्या आपको भी लगता हैं कि छींक आने से अपशकुन होता हैं? शुभ कार्य के लिए घर से निकलते वक्त यदि किसी को छींक आ जाएं तो दो मिनट रुक जाना चाहिए, नहीं तो कोई न कोई अनहोनी होती हैं? यदि हाँ, तो जानिए कि क्या वास्तव में छींक आने से अपशकुन होता हैं? एक बार मैं एक परिचि...
mahendra verma
277
आम तौर पर यह समझा जाता है कि वैज्ञानिक दृष्टिकोण का संबंध केवल वैज्ञानिकों से है,  ऐसा बिल्कुल नहीं है । वास्तव में वैज्ञानिक दृष्टिकोण जीवन जीने का एक तरीका है ( सोचने की एक व्यक्तिगत और सामाजिक प्रक्रिया ) जो वैज्ञानिक विधि का उपयोग करता है और जिसके परिणामस्...