ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
20
जामिया मिलिया इस्लामिया में हिंदी व पत्रकारिता विभाग में प्रोफेसर रह चुके, हिंदुस्तान की कई पीढ़ियों को हास्य-व्यंग्य  से परिचित कराने वाले अशोक चक्रधर की अपने विश्वविद्यालय पर आजबीती पर टिप्पणीतू तौ वहां रह्यौ ऐ, कहानी सुनाय सकै जामिआ कीअशोक चक्रधरचौं रे चम्पू...
sanjay krishna
245
सवाल: अशोक जी, बहुत से लोगों की शिकायत है कि साहित्य हाशिए पर जा रहा है। इस दूसरा पहलू यह भी देखने को मिल रहा है कि अखबारों के पाठक बढ़ रहे हैं। ऐसे में इन दोनों स्थितियों के बीच कविता के लिए कहां जगह बनती है?जवाब :  कविता के लिए जगह अपने आप बनती है। इसे बनाया...
 पोस्ट लेवल : अशोक चक्रधर
kumarendra singh sengar
28
नीरजा भनोत, ये नाम संभवतः अब लोगों के लिए अनजाना नहीं होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि उनके साहसिक कार्य और बलिदान को याद रखने के लिये राम माधवानी के निर्देशन में नीरजा फ़िल्म का निर्माण किया जा चुका है. इस फ़िल्म में नीरजा का किरदार अभिनेत्री सोनम कपूर ने निभाया. इस फिल्म...
शिवम् मिश्रा
33
नीरजा भनोट (अंग्रेज़ी: Neerja Bhanot, 7 सितंबर 1963- 5 सितंबर 1986) मुंबई में पैन ऍम एयरलाइन्स (अंग्रेज़ी: Pan Am Airlines) की विमान परिचारिका थीं। 5 सितंबर 1986 के मुम्बई से न्यूयॉर्क जा रहे पैन एम फ्लाइट 73 के अपहृत विमान में यात्रियों की सहायता एवं सुरक्षा क...
शिवम् मिश्रा
33
नीरजा भनोट (अंग्रेज़ी: Neerja Bhanot, 7 सितंबर 1963- 5 सितंबर 1986) मुंबई में पैन ऍम एयरलाइन्स (अंग्रेज़ी: Pan Am Airlines) की विमान परिचारिका थीं। 5 सितंबर 1986 के मुम्बई से न्यूयॉर्क जा रहे पैन एम फ्लाइट 73 के अपहृत विमान में यात्रियों की सहायता एवं सुरक्षा कर...
Bharat Tiwari
20
रणवीर ने निर्देशक-दृष्टि से अभिनय किया और वह संजू के अंदर के दस-बीस आदमियों के अंदर सफलता से चला गया—अशोक चक्रधरचौं रे चम्पू!चौं रे चम्पू! सुनी ऐ, तू आजकल्ल डबल रोल की फिलम बनाय रह्यौ ऐ?राजू हीरानी एक समाज-मनोवैज्ञानिक हैंडबल रोल! आप अपने आप से पूछिए कि एक जीवन में...
Bharat Tiwari
20
भाषाएं कैसे क़रीब आएंगी ― अशोक चक्रधरचौं रे चम्पूएक जान दो ज़बान                                          —अशोक चक्रधरचौं रे चम्पू, सबसे तेज़ कौन सौ पंछी उड़ै?...
Bharat Tiwari
20
चौं रे चम्पू!—अशोक चक्रधर                                        चौं रे चम्पू! बिस्व हिन्दी दिवस के भौत कारकिरम है रए हुंगे आज? नहीं चचा, दिल्ली में एक ही कार्...
Bharat Tiwari
20
करी ख़ुदकशी युवा कृषक ने,   रुदन भरी तेरहवीं,     पंच मौन थे ग्राम-सभा के,        हुई न गहमागहमी। देना मोल फसल का सारा। प्यारे, तेरह पांच अठारा! (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); चौं...
Bharat Tiwari
20
चौं रे चम्पू!—अशोक चक्रधर                                        चौं रे चम्पू! नए साल ते का उम्मीद ऐ तेरी? साल तो पलक झपकते बीत जाता है। उम्मीदें की जा सकती है...