ब्लॉगसेतु

Akhilesh Karn
255
फिल्म : जय जगदंबे मांगायक: अस्मितागीतकार: संगीतकार: म्यूजिक कंपनी: जय जय जय जगदंबे कालीमां गौरी मां शेरावालीजय जय जय जगदंबे कालीमां गौरी मां शेरावालीमहामाया जगकल्याणी मांकरू सबके उद्धारमहामाया जगकल्याणी मांकरू सबके उद्धारअहां के महिमा के गुण मैया गाव...
jayant  sahu
500
छत्तीसगढ़ी भासा ह व्याकरण के दृष्टि ले गजब समृद्ध हवय। 1885 म हीरालाल चन्नाहू ह छत्तीसगढ़ी व्याकरण के सिरजन करिन जेकर अंग्रेजी भासा म अनुवाद तको होवय रिहिसे। इही कृति खातिर हीरालाल जी ल कलकत्ता के एक संस्था कोति ले 1890 म काव्योपाध्याय सम्मान ले विभूषित करे गे रिहिस।...
 पोस्ट लेवल : हमर अस्मिता
kuldeep thakur
98
कुलपति साहब तो क्या उस छात्रा को संस्थान की अस्मिता के लिए अपनी अस्मिता क़ुर्बान करनी चाहिए थी ?बीएचयू  के मुखिया को ऐसी बयानबाज़ी करनी चाहिए थी ?सभ्यता की सीढ़ियाँ चढ़ता मनुष्य पशुओं से अधिक पाशविक व्यवहार पर उतर आया है साइकिल पर शाम साढ़े...
रवीन्द्र  सिंह  यादव
302
कुलपति साहब तो क्या उस छात्रा को संस्थान की अस्मिता के लिए अपनी अस्मिता क़ुर्बान करनी चाहिए थी ?बीएचयू  के मुखिया को ऐसी बयानबाज़ी करनी चाहिए थी ?सभ्यता की सीढ़ियाँ चढ़ता मनुष्य पशुओं से अधिक पाशविक व्यवहार पर उतर आया है साइकिल पर शाम साढ़े छह ब...
अनंत विजय
54
आजादी के सत्तर साल बाद भी हमारा देश शौचालय की समस्या से जूझ रहा है तो इतना तो तय है कि इसके लिए हमारी कोई ना कोई नीति रीति जिम्मेदार रही होगी । अगर आजादी के सत्तर साल बाद भी हम अपने देश की आधी आबादी को बेहद बुनियादी सुविधा मुहैया नहीं करवा पाए हैं तो इससे शर्मनाक क...
राजेश कश्यप
264
विडम्बनानारी अस्मिता के प्रति संवेदनहीनता-राजेश कश्यपबॉलीवुड अभिनेता सलमान खान ने अपनी आने वाली फिल्म की शूटिंग की थकावट को सामूहिक रेप की शिकार महिला की होने वाली हालत से तुलना करके एक नारी की अस्मिता के प्रति घोर संवेदनहीनता, संकीर्ण मानसिकता एवं अनैतिकता का परिच...
jayant  sahu
500
पूरा पढ़े खातिर येदे लिंक ल चपकव
 पोस्ट लेवल : हमर अस्मिता
jayant  sahu
500
नानपन म पंच-परमेसर वाला पाठ पढ़े रेहेन। मन म तको इही भरम रिहिस के जेन ह गांव अउ समाज के सियानी करथे तेकर मन म कोनो परकार के दूवाभाव नइ होवे, सबो ल एकेच लउठी म हॉकथे। अब तइहा के बात ल बइहा लेगे। भले हमर देस प्रजातंत्रिक काहवत हावय फेर जब देस म चलत कानून बेवस्था ल देख...
 पोस्ट लेवल : हमर अस्मिता
राजेश कश्यप
264
विडम्बनानारी अस्मिता के प्रति अमर्यादित जनप्रतिनिधि!-राजेश कश्यप           इक्कीसवीं सदी में भी नारी अपनी अस्मिता एवं सम्मान को बचाने के लिए संघर्षरत है। अनेक रूढिय़ों, वर्जनाओं और भारी भेदभावों की मजबूत सामाजिक दीवारों को तोडक़र निरन्...
 पोस्ट लेवल : Iनारी अस्मिता
केवल राम
320
गतांक से आगे इतिहास चाहे नारी के विषय में कुछ भी कहता है लेकिन हमें वर्तमान को देखने की जरुरत है, और यह भी सच है कि आज अगर हम सही और तर्कपूर्ण निर्णय ले पाएंगे तो निश्चित रूप से हमारा इतिहास गौरव करने लायक होगा. हमें इस बात को भी समझना होगा कि इतिहास के निर्माण में...