ब्लॉगसेतु

8
--सालगिरह पर ब्याह की, पाकर शुभसन्देश।जीवन जीने का हुआ, सिन्दूरी परिवेश।।--कर्म करूँगा तब तलक, जब तक घट में प्राण।पा जाऊँगा तन नया, जब होगा निर्वाण।।--आना-जाना ही यहाँ, जीवन का है मर्म।वैसा फल मिलता उसे, जैसे जिसके कर्म।।--चुनकर गंगा घाट पर, पत्थर रहा तराश।किसी मोड...
अनीता सैनी
19
हृदय पर अनहोना आभास सीये, यथार्थ के नर्म नाज़ुक तार पर, दबे पाँव दौड़ती है दावाग्नि-सी, ख़ुशबू-सी उड़ती है विश्वास पर, आहट होती है उजली आस पर  |चलती है एहसास की थामे अँगुली,  अचल अंबर-सा लिये हाथ में हाथ, सवार रहती है प...
sanjiv verma salil
7
आभारआपसे शुभ कामना पा, हुआ यह दिन ख़ाससाँस में अमृत घुला ज्यों, सुमन में सुवासईश्वर दे पात्रता, बढ़ता रहे नित स्नेहज्यों की त्यों चादर रहे, जब जाऊँ अपने गेहह्रदय से आभार प्रिय! अनमोल है यह प्यारजिंदगी के द्वार पर है यही बन्दनवार    http://divyanarmada....
 पोस्ट लेवल : abhar आभार
विजय राजबली माथुर
168
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं
sanjiv verma salil
7
मुक्तक *स्नेह का उपहार तो अनमोल हैकौन श्रद्धा-मान सकता तौल है? भोग प्रभु भी आपसे ही पा रहेरूप चौदस भावना का घोल है*स्नेह पल-पल है लुटाया आपने।स्नेह को जाएँ कभी मत मापनेसही है मन समंदर है भाव काइष्ट को भी है झुकाया भाव ने*फूल अंग्रेजी का मैं,यह जानताफूल हि...
sanjiv verma salil
7
क्षणिकायें:१. आभार*आभारअर्थात आ भार.तभी कहेंजब सकें स्वीकार*२. वरदान *ज़िन्दगी भरा चाहा किन्तु न पाया. अवसर मिला तो नाहक गँवाया.मन से किया कन्यादान. पर भूल गए करना वरदान. *३. कविताभाव सलिला से दर्द की उषा किरण जब करती है अठखेली तब जिंदगी उसे बनाकर सहेली कर देती है क...
sanjiv verma salil
7
क्षणिका:आभारअर्थात आ भार.तभी कहेंजब सकें स्वीकार*#हिंदी_ब्लॉगिंगhttp://divyanarmada.blogspot.in/
समीर लाल
79
रामफल को विरासत में अगर कुछ मिला था तो मात्र दो चीजें.एक तो पिता के द्वारा पुरखों से प्राप्त एक बीघा जमीन और उस पर बने दो कमरे के पक्के मकान की वसीयत और दूसरा, पिता से मिली कभी गाँव छोड़ कर शहर न जाने की नसीहत. पिता का कहना था कि गाँव ने तुम्हें जन्म दिया है तो तुम्...
सुशील बाकलीवाल
402
            एक कंस्ट्रक्शन साईड पर चलते काम में 6ठे माले पर मौजूद इंजीनियर ने सडक पर काम कर रहे एक कर्मचारी को आवाज दी जो काम के शोर के कारण नीचे मौजूद उस कर्मी ने नहीं सुनी । इंजीनियर ने उसे फिर आवाज दी, उसने...
विजय राजबली माथुर
73
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )**:****http://abpnews.abplive.in/india-news/kanhaiya-kumar-to-meet-rahul-gandhi-today-348166/साभार :Sindhu Khantwal via ABP Newshttp://abpnews...
 पोस्ट लेवल : ABP News राहुल गांधी आभार