ब्लॉगसेतु

आदित्य शुक्ला
565
जेएनयू में कल जो हुआ वह निंदनीय है। नकाबपोश गुन्डों ने एबीवीपी और वामपंथी विचारधारा के समर्थक विद्यार्थियों को पीट—पीटकर घायल कर दिया। उसके बाद शुरू हुयी पार्टियों की राजनीति और मीडिया का खेल। आजकल मीडिया खेल खेलने लगा है। दोनों ओर के मीडिया चैनलों एक दूसरे को विक्...
Pawan Kumar Sharma
161
पवन कुमार, नई दिल्ली
Pawan Kumar Sharma
161
पवन कुमार, नई दिल्ली
kumarendra singh sengar
19
इस बात पर शायद ही कोई विश्वास करे कि आम आदमी पार्टी के बीस विधायकों की सदस्यता को अयोग्य साबित करने में भाजपा या कांग्रेस की तरफ से किसी तरह का षड्यंत्र रचा गया होगा. ऐसा इसलिए भी कहा जा सकता है क्योंकि इन बीस विधायकों की सदस्यता पर सवाल इन दोनों राजनैतिक दलों के ब...
Bharat Tiwari
25
दिल्ली में पुख्ता महिला सुरक्षा की मांग को लेकर आप महिला संगठन पहुंचा गृह मंत्रालय दिल्ली महिला संगठन की अध्यक्षा रिचा पांडे मिश्रा (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आम आदमी पार्टी के महिला संगठन की अध्यक्षा रिचा पांडे मिश्रा ने बुधवार को...
Pawan Kumar Sharma
161
सर जी इन दिनों अपने नाम के एक अर्थ को लेकर काफी परेशान है। परेशान भी क्यों न हो, जिस बीजेेपी और कमल के निशान की वह अक्सर खिलाफत करते हैं, अपने नाम की वजह से उनका बीजेपी से एक गहरा नाता जो जुड़ गया है। सरजी को उस समय से काफी टेंशन है, जब से उन्हें किसी ने बताया है क...
अनंत विजय
52
एक के बाद एक हार के बाद दिल्ली की आम आदमी पार्टी अब आंतरिक कलह से जूझ रही है। दो ढाई साल पहले जिस पार्टी को दिल्ली ती जनता ने प्रचंड बहुमत से दिल्ली की गद्दी सौंपी थी वो इतने कम समय में ही इतने बड़े कलह का शिकार हो जाएगी किसी ने सोचा भी नहीं था। पंजाब में हार, दिल्...
हर्षवर्धन त्रिपाठी
84
आखिरकार काफी जद्दोजहद के बाद अरविन्द केजरीवाल ने ये मान लिया है कि उनसे गलतियां हुई हैं। अब गलतियों को सुधारकर वो आगे बढ़ेंगे। लेकिन, सवाल जस का तस बना हुआ है कि क्या अरविन्द को सच में अपनी गलतियों का अहसास हो गया है। क्या अरविन्द केजरीवाल अपनी सबसे बड़ी गलती यानी...
हर्षवर्धन त्रिपाठी
84
दिल्ली को देश की राजधानी होने से खास सहूलियत मिली हुई है। यहां सब खास होते हैं। कमला ये कि उस खास दिल्ली में आम आदमी की बात करके एक पार्टी सत्ता में पहुंच गई। सत्ता में यूं ही नहीं पहुंच गई, सत्ता में वो आम आदमी पार्टी नाम रखकर देश की सबसे ईमानदार पार्टी होने का वा...
अनंत विजय
52
वेलेंटाइन डे के दिन दिल्ली में आम आदमी पार्टी सरकार के दो साल पूरे हो गए । दो साल किसी भी सरकार के काम-काज का आंकलन करने के लिए काफी होता है । वेलेंटाइन डे वाली सरकार दो साल तक केंद्र सरकार से टकराव के रास्ते पर चलती रही और उनके कुछ मंत्री विवादों में पड़े । संभव ह...