ब्लॉगसेतु

kumarendra singh sengar
0
कोरोनाकाल के कारण ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था बहुत प्रभावी समझ आ रही है. ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था के बारे में इधर नई शिक्षा नीति में भी जोर दिया गया है. इसके साथ-साथ बहुत सी जगहों पर ऑनलाइन सामग्री को अपलोड किये जाने की नीति बनने लगी है. इस तरफ राज्य सरकार ने भी कदम बढाए...
kumarendra singh sengar
0
जैसे-जैसे हमें अपनी वैचारिकी के प्रसार-प्रचार के माध्यम मिलते जा रहे हैं, वैसे-वैसे हमारे आसपास संकुचन की स्थिति बनती जा रही है. विचारों का प्रसार करने के साथ-साथ हम सभी लोगों के मन में भावना बनी रहती है कि हमारे उन विचारों को स्वीकारने वाले अधिक से अधिक लोग हों. इ...
Manisha Sharma
0
अच्छा वीडियो सम्मेलन सॉफ्टवेयर कैसा हो? Achcha Video Conference Software Kaisa ho?कोरोना की महामारी के प्रकोप के चलते जब से पूरी दुनिया में लॉकडाउन हुआ है, लोगों को अपने घरों में रहना पड़ रहा है उससे लोगों को एक दूसरे से काट दिया है।  सभी लोग अपने परिवार के कर...
 पोस्ट लेवल : इंटरनेट अनुभव तकनीक
Manisha Sharma
0
ऑनलाइन मनोरंजन में ही हिंदी सुपरहिट हैभारत में हिंदी की जो स्थिति है वो किसी से  छुपी नहीं है। भारत के रोजगार बाजार से हिंदी लगभग गायब हो चुकी है। सरकारी क्षेत्र में भी कुछ विशेष प्रकार की जैसे कि राजभाषा विभाग में अनुवादक या हिंदी अधिकारी एवं हिंदी के अध्यापक...
kumarendra singh sengar
0
कई दिनों से अपने तमाम अधूरे कामों को पूरा करने के बारे में विचार किया जा रहा है. अनेक अधूरे कामों के बीच एक अधूरा काम पुरानी पुस्तकों का पुनः प्रकाशन करवाना भी है. असल में कुछ साल पहले दिमाग में एक खुरापात ने जन्म लिया, इसे खुरापात इसीलिए कहा जायेगा क्योंकि जिस काम...
रवीन्द्र  सिंह  यादव
0
हसरत-ए-दीदार में सूख गया बेकल आँखों का पानी,कहने लगे हैं लोग यह तो है गुज़रे ज़माने की कहानी।मिला करते थे हम मेलों त्योहारोंउत्सवों में,मिलने की फ़ुर्सत किसे अब नस-नस में दौड़ती है  नशा-ए-इंटरनेट की रवानी। लिखते थे...
शिवम् मिश्रा
0
आज से ३० साल पहले एक जाल बुना गया था ... ऐसा जाल जो पूरे विश्व के सभी खास ओ आम को एक सूत्र मे बांध सके ... जी हाँ मैं बात कर रहा हूँ इंटरनेट की |इंटरनेट, एक दूसरे से जुड़े कम्प्युटरों का एक विशाल विश्व-व्यापी नेटवर्क या जाल है। इसमे कई संगठनो, विश्वविद्यालयो, आ...
Yash Rawat
0
एक औसत व्‍यक्ति के कम से कम 5 सोशल मीडिया एकाउंट्स हैं और वह हर रोज लगभग 1 घंटा और 40 मिनट का समय इन नेटवर्क्‍स पर ब‍िताता है।सोशल मीडिया से बच्‍चे सबसे ज्‍यादा प्रभावित हैंसोशल मीडिया अर्थात ऐसे माध्‍यम जहां हम लोगों से जुड़ सकते हैं अपने बारे में लोगों को बता सकत...
शिवम् मिश्रा
0
आज से २९ साल पहले एक जाल बुना गया था ... ऐसा जाल जो पूरे विश्व के सभी खास ओ आम को एक सूत्र मे बांध सके ... जी हाँ मैं बात कर रहा हूँ इंटरनेट की |इंटरनेट, एक दूसरे से जुड़े कम्प्युटरों का एक विशाल विश्व-व्यापी नेटवर्क या जाल है। इसमे कई संगठनो, विश्वविद्यालयो, आदि क...
यूसुफ  किरमानी
0
मीडिया भारतीय जनमानस को इस बात का इतना आदी बना दिया है कि जैसे ही फ़ोर्ब्स लिस्ट में किसी भारतीय का नाम आता है हम गर्व से चौड़े होने लगते हैं। अरे इतनी दौलत वाला अपना भारतीय है...तुरंत टीवी पर उस धनी भारतीय की कहानियाँ चलने लगती हैं छपने लगती हैं।...हमारा गर्व बल्ल...