.....क्या खूब इन्सानियत की हस्ती हो गई हथियार बेशकीमती जिंदगी सस्ती हो गई !!सु-मन 
 पोस्ट लेवल : इन्सानियत जिन्दगी