ब्लॉगसेतु

S.M. MAsoom
0
e richshaw ये है ई रिक्शा और जनाब लखनऊ की सडको पे टेम्पो और पुराने रिक्शा वालो के सीने पे मुंग दलता ये ऐसा दौडा कि देखते ही देखते सबकी जबान पे छा गया | शहर के हर कोने हर गली मे इसे आप देख सकते है और इसके लिये ना परमिट का टेन्शन और ना किसी खास रूट पे ही चल...
 पोस्ट लेवल : ई रिक्शा featured e richshaw
राजीव तनेजा
0
“हद हो गयी ये तो एकदम पागलपन की…नासमझ है स्साले सब के सब….अक्ल नहीं है किसी एक में भी…लाठी..फन फैलाए..नाग पर भांजनी है मगर पट्ठे..ऐसे कमअक्ल कि निरीह बेचारी जनता के ही एक तबके को पीटने की फिराक में हाय तौबा मचा…अधमरे हुए जा रहे हैं"… “किसकी बात कर रहे हैं तने...