ब्लॉगसेतु

kumarendra singh sengar
17
कोरोनाकाल के कारण ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था बहुत प्रभावी समझ आ रही है. ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था के बारे में इधर नई शिक्षा नीति में भी जोर दिया गया है. इसके साथ-साथ बहुत सी जगहों पर ऑनलाइन सामग्री को अपलोड किये जाने की नीति बनने लगी है. इस तरफ राज्य सरकार ने भी कदम बढाए...
kumarendra singh sengar
17
दिखती हो तुम जब भी ऑनलाइन लगता है तुम साथ हो मेरे. करती हो तुम जब भी लाइक मेरी किसी पोस्ट को लगता है मेरे हाथ में तेरा हाथ है. और करती हो तुम कोई कमेंट जब कभी भी तो लगता है जैसे बात कर रही हो तुम...
kumarendra singh sengar
17
जिस तरह से कोरोना संक्रमण की स्थिति दिखाई दे रही है, उसके अनुसार सरकारों द्वारा लॉकडाउन पुनः लगाये जाने के सम्बन्ध में जिस तरह के कदम उठाये जा रहे हैं, उन्हें देखकर लगता नहीं है कि शिक्षण संस्थान सहज रूप में जल्दी शुरू हो सकेंगे. प्राथमिक और माध्यमिक स्तर के शिक्षण...
kumarendra singh sengar
17
चीनी वायरस कोरोना के चलते मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन लागू किया गया. इसके ठीक पहले सभी तरह की शैक्षणिक संस्थाओं को बंद करवा दिया गया था. शैक्षणिक संस्थान अभी भी बंद हैं और आज दिए गए दिशा निर्देशों के अनुसार यह बंदी 31 जुलाई तक रहेगी. यह व्यवस्था आरम्भ से ही इसलिए की...
अनंत विजय
52
कोरोना के खतरे को देखते हुए जो लॉकडाउन किया गया है उसने लेखकों, पुस्तकों, प्रकाशकों और पाठकों की श्रृंखला भी प्रभावित हुई है। ना तो पुस्तकें छप पा रही हैं और ना ही वो पाठकों तक पहुंच पा रही हैं। ऐसे माहौल पाठकों और लेखकों के बीच संवाद बाधित होता देख दिल्ली के कई प्...
kumarendra singh sengar
17
समय जब साथ नहीं होता है तो कुछ भी सही से नहीं चलता है. न सामान्य से काम सहज लगते हैं और न ही असामान्य काम करने की हिम्मत होती है. इस काम न करने की मानसिकता का असर ये रहा कि विगत कई दिनों से कोई पोस्ट लिखने का भी मन नहीं किया. इस बारे में एक तो कुछ अच्छा न लगना रहा...
PRAVEEN GUPTA
77
इंडियामार्ट / 40 हजार रुपए से बना डाला दिल्ली का ऑनलाइन सदर बाजार, अब है 430 करोड़ का कारोबारनई दिल्ली. दिल्ली का सदर बाजार, उत्तर भारत का सबसे मशहूर थोक बाजार है। जहां सुई से लेकर इलेक्ट्रॉनिक्स सामान तक थोक दाम पर मिलते हैं। जहां सैकड़ों नहीं, हजारों कारोबारी रोज...
दिनेश  प्रजापति
391
OneAdनमस्कार मित्रों, स्वागत है आपका अपना अंतर्जाल पे। आज का विषय है ऑनलाइन रूपये कैसे कमायें ? मित्रों फेसबुक और वाट्सएप्प पे रोज हम ऑनलाइन रहते ही हैं बस इनका सदुपयोग कीजिये। इंटरनेट पे बहुत सी एप है जो रूपये कमाने का वादा करती है, जिनमे से कुछ फेक है औ...
rishabh shukla
658
नेता जी के आगमन पर शर्मा जी ने प्रसन्नता के भाव चेहरे पर लाते हुए कहा - "अद्भुत संयोग है की नेता जी स्वयं यहाँ पधारे|"चौबे जी पास में खड़े थे उन्होंने कहा - "यह सच में अद्भुत संयोग ही है की नेता जी चुनाव के बाद पधारे| शायद यह इतिहास में पहली बार हो रहा है|"यह चित्र...
ज्योति  देहलीवाल
40
आज हम इतने ज्यादा व्यस्त हो गए हैं कि हमारे पास ईश्वर की भक्ति के लिए भी समय नहीं हैं। भई समय लाये तो कहां से लाएं? ट्विटर, फेसबुक और व्हाट्स एप से फुरसत मिले तब न! अब ईश्वर की भक्ति ही नहीं करेंगे तो ईश्वर मिलेंगे कैसे? इंसान मुलत: जुगाडू प्राणी हैं। अत: हमने इसका...