ब्लॉगसेतु

सुशील बाकलीवाल
427
       दुनिया भर में यौन शक्तिवर्धक,  बलवर्धक व नपुंसकता दूर करने की दवा के रूप में प्रख्यात सफेद मूसली के सिर्फ इतने ही उपयोग नहीं है, बल्कि इसका उपयोग दमा,  चर्मरोग, पेशाब संबंधी रोग,  पाईल्स तथा डायबिटीज के उपचार में भी कि...
विजय राजबली माथुर
164
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं
Satyan Srivastava
44
हर शादी शुदा कपल्स की एक ही इच्छा प्रबल रूप से होती है कि उसकी सेक्स लाइफ(Sex life)सबसे खुशगवार हो और उसकी पत्नी हमेशा उससे संतुस्ट रहे तो इसके लिए आपको किसी मेडिकल स्टोर पे चक्कर लगाने की कोई आवश्यकता ही नहीं है और न ही किसी डॉक्टर से सलाह लेने की कोई आवश्यकता है...
Satyan Srivastava
44
शुक्र हमारे शरीर में रक्त कणों से पैदा होता है और अत्यधिक शुक्र का क्षय व्यक्ति को कमजोर कर देता हैं ये स्वप्न दोष(Nocchural Emission)एक शुरुआती किशोरावस्था के वर्षों के दौरान होने वाली एक सामान्य घटना है तथा ये भी आवश्यक नहीं है कि प्रत्येक पुरुष स्वप्नदोष को...
Satyan Srivastava
44
सबसे पहले स्वप्नदोष(Nocchural Emission)से पीड़ित व्यक्ति को अपने मन में एक बात पूरी तरह बिठा लेना चाहिए कि स्वप्न दोष कोई रोग नहीं है यह एक सिर्फ प्राकृतिक कारण है और आपके शरीर को इसकी आवश्यकता भी है इसलिए युवा-वर्ग को अपना ध्यान पढ़ाई में लगाकर अच्छे परिणाम के लिए...
Satyan Srivastava
44
स्वप्न दोष(Nocchural Emission)होना एक प्रकार की प्राकृतिक प्रक्रिया है और साधारण-तया इसमें किसी उपचार की आवश्यकता नहीं होती है इसमें व्यक्ति जैसे-जैसे परिपक्व होता है स्वप्न दोष(Nocchural Emission)या इसकी बारंबारता  धीरे-धीेरे कम हो जाती है हाँ यदि अत्यधिक वीर...
Satyan Srivastava
44
बाल्यावस्था से किशोरावस्था में प्रवेश के दौरान तेजी से वीर्य बनना और निकलना आरंभ हो सकता है और स्वप्न दोष(Nocchural Emission)के रूप में बाहर निकल सकता है इस बात से ज्ञात होता है कि किशोर प्रजनन के लिए परिपक्व हो गया है और इसके लिए किसी  उपचार की आवश्यकता नहीं...
Satyan Srivastava
44
किशोरावस्था में विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण, कामुकता, अश्लील साहित्य व अश्लील चलचित्रों का अवलोकन, खाने में तली-भुनी चीजों का ज्यादा इस्तेमाल, तेल-मसालेदार वस्तुओं का अत्यधिक सेवन, अधिक गर्म वस्तुएं चाय, कॉफ़ी आदि का अधिक प्रयोग, व्यायाम का अभाव व मानसिक तनाव ही स्व...
Satyan Srivastava
44
स्वप्नदोष(Nocchural Emission)युवा वर्ग में एक आम समस्या है और ये शरीर में होने वाली एक स्वाभाविक दैहिक प्रक्रिया है इसमें किसी भी मनुष्य को नींद के दौरान वीर्यपात(Ejaculation)हो जाता है आप इसे यूँ भी समझ सकते है वीर्य़ का स्खलन संभोग की एक चरम सीमा है जो अधिकतर...
Satyan Srivastava
44
अविवाहित युवकों तथा किशोरों को रात में सोते समय स्वप्न में वीर्यपात होने लगता है तो इसी को स्वप्नदोष(Nocchural Emission)कहा जाता है इस प्रक्रिया में चाहे उत्तेजना हो या नहीं लेकिन वीर्य अपने आप ही स्खलित हो जाता है अंग्रेंजी में यह रोग स्पर्माटोरिया के नाम से भी जा...