इस अंधकार को उजाला देकरकविता लिखना हैजीवन भर रोने वाले कोहंसकर जीना हैहै मात्र नही चुनौती जोस्वीकार करूँ और बढ़ जाऊंपता नही शायद कितनेभावों का प्याला पीना हैहै रुदन वही जहाँ प्रेम दिखेहै काँटे वही जहां फूल दिखेहै प्रेम वही जहां त्याग दिखेहै सत्य वही जहां विश्वास दिख...
 पोस्ट लेवल : कविता लिखना है कविता