ब्लॉगसेतु

रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : कविता
Meena Bhardwaj
21
चाँद -सितारे करते बातें ,रात भी बहुत उदास है ।थका हुआ मन बैठ ये सोचे ,कितनी निकृष्ट बात है ।।ऐसी भी क्या भूख ,कि कुछ भी खा गया कोई ।किसी एक की मूर्खता पर ,सम्पूर्ण मनु सृष्टि रोई ।।अपने मद में डूबा ,बन गया कोई रक्तबीज ।बिखरी है पूरी दुनिया में ,उसके अहंकार की छींट...
 पोस्ट लेवल : कविताएँ
Roli Dixit
154
अग़र आज की रात मैं न रहूँतो क्या तुम लौटा कर ला सकोगे वो दिनजो अपना अस्तित्व खो चुके हैं.कभी सोचा, कैसे सोती हूँ मैं उन रातों कोजो तुमने अपनी स्याही से सींची थीं...और भयावह हो जाता हैमेरी आँखों से भीगकर सन्नाटे का शोर...दर्द भी इन दिनों अपनी फ़ाक़ाकशी में हैकुछ नहीं त...
 पोस्ट लेवल : कविता प्रेम
Roli Dixit
154
मेरी प्रेम कविताएँबीथोवन के जवाबी ख़त नहींजो तुम पुष्टि कर सकोगेमेरे तुमसे प्रेम में होने कीन ही मैंब्राउनिंग की वो पोरफीरिया हूँजिसे उसके प्रेमी मेंउसी के बालों से फंदा बनाकरप्रेम में अमरत्व दियामेरा अमर प्रेमदिन में सूरज और रात में चाँद सा हैकैसे इनकार करोगे किरात...
रवीन्द्र  सिंह  यादव
292
बसंत बहार का यौवन थेअनुपम अद्भुत श्रृंगार थे  ये पीतवर्ण सूखे फूल-पत्ते,पर्णविहीन टहनियों पर लटके रह गये हैं अब मधुमय मधुमक्खी के छत्ते।  अब पेड़ों के नीचे बिस्तर से बिछ गये हैंवृक्ष के अलंकरण,इनमें समाया है दर्द, आह-मिलन के ए...
 पोस्ट लेवल : कविता पतझड़
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : कविता
Roli Dixit
154
तुम्हारी चुप्पियों को भेजे गएमेरे बेहिसाब चुम्बनहमारे हृदयों को जोड़कर रखेंगे,तुम सहलाते रहना अपने दर्द कोमेरे नर्म हाथों की मानिंद.तुम तक नहीं आ सकती मैंसमय ने चूस ली है घुटने की चिकनाईमेरी आँखों पर रख दिया शिष्टता का रक्ततुमसे ज़्यादा तो मेराईश्वर का भी होने का मन...
 पोस्ट लेवल : कविता प्रेम कविता
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : कविता
Bharat Tiwari
20
रघुवीर सहाय की ये 5 बेहतरीन अंतिम कविताएँउनके मरणोपरांत प्रकाशित अंतिम कविता संग्रह 'एक समय था' से हैं.संग्रह के संपादक सुरेश शर्मा लिखते हैं: "इसमें अधिकांश कविताएँ उनके जीवन के आख़िरी चार-पाँच वर्षों की हैं जो कि ज्यादातर अप्रकाशित हैं। सहायजी के निधन के बाद...
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : कविता