ब्लॉगसेतु

सुशील बाकलीवाल
426
        मौसम के बदलाव के चलते आसानी से जो समस्या सामान्य तौर पर हमें सबसे पहले प्रभावित करती है वह यही सर्दी, खांसी और जुकाम होते हैं जो एक ही परिवार के रोग माने जाते हैं और इनकी औषधि भी तकरीबन एक ही होती है । हम यहाँ आपको कुछ ऐसे आसान नुस्खे बत...
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं हम अक्सर अपने व्यंजनों में नमक का उपयोग करते हैं जबकि काली मिर्च डालना भूल जाते हैं। लेकिन काली मिर्च के फायदे कहीं बेहतर हैं। काली मिर्च नाटकीय रूप...
 पोस्ट लेवल : काली मिर्च आँखें
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैंहम में से अधिकांश लोगों को चाहे हम इस बात को स्‍वीकार करें या नहीं, बढ़ती उम्र के साथ आने वाले स्‍वास्‍थ्‍य जोखिम का डर सताता रहता है। अगर आपके आस-पास भी...
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं  
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं
विजय राजबली माथुर
165
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैंआयुर्वेदिक चिकित्सा https://www.facebook.com/oldveda/posts/896015783783770मोतियाबिंद से बचाव और उपचार: जब आँख के लैंस की पारदर्शिता हल्की या समाप्त ह...
विजय राजबली माथुर
165
 जैतून के तेल के लाभ जैतून के तेल का प्रयोग शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। जैतून के तेल में फ्लेवसेनॉयड्‌स स्कवेलीन और पोरीफेनोल्स एंटीऑक्सीडेंट्‌स होता है जो फ्री रैडिकल्स से कोशिकाओं को समाप्त होने से बचाता है। सर्दियों और गर्मियों के मौसम में यह र...
विजय राजबली माथुर
165
कढ़ी पत्ता या मीठी नीम अक्सर हम भोजन में से कढ़ी पत्ता निकाल कर अलग कर देते है | इससे हमें उसकी खुशबु तो मिलती है पर उसके गुणों का लाभ नहीं मिल पाता |कढ़ी पत्ते को धो कर छाया में सुखा कर उसका पावडर इस्तेमाल करने से बच्चे और बड़े भी भी इसे आसानी से खा लेते है ,इ...