ब्लॉगसेतु

anup sethi
280
दिव्‍य हिमाचल से बातचीतहिमाचल प्रदेश के एक दैनिक दिव्‍य हिमाचल ने लिखने पढ़़ने वालों के साथ बातचीत की एक श्रृंखला शुरू की है। इसमें मेरी बातचीत 18 अगस्‍त 2018 को प्रकाशित हुई थी जो यहां दी जा रही है। दिव्‍य हिमाचल : अपने भीतर के विद्रोह का संवाद अगर कविता है,...
anup sethi
280
कल भारत भूषण अग्रवाल पुरस्‍कार शुभम् श्री की 'पाेएट्री मैनेजमेंट' कविता  को देने की घोषण्‍ाा हुई और जैसा अक्‍सर होता है, सोशल मीडिया पर अच्‍छे-बुरे, सही-गलत की बहस छिड़ गई। पहली प्रतिक्रिया में मुझे लगा कि कविता की गिरी हुई सामाजिक स्‍िथति को कविता के केंद...
anup sethi
280
मधुकर भारती का यह कैरीकेचर कोई बीस एक साल पुराना है, सादे कागज पर पेन से फोटो देखकर बनाया था।पिछले दिनों हिमाचल प्रदेश के एक बेहद जमीनी कवि, आलोचक और आयोजनकर्ता मधुकर भरती का हृदयाघात से अकाल देहावसान हो गया। मधुकर भरती सत्‍ता, शोहरत, सफलता के प्रति हमेशा  उदा...
anup sethi
280
                      कागज पर पेंसिल से रेखांकन : मुदित अर्ध शती पर मुक्‍तिबोध को याद करते हुए काल-प्रस्‍तर पर प्रहार मुक्तिबोध की छेनी से ही किया जा सकता है ह...
anup sethi
280
सलमान मासाल्‍हा की कविताएं                                       &nbsp...
anup sethi
280
सलमान मासाल्‍हा की कविताएं             के एस कुलकर्णी की चित्रकृतिपिंजरा उसकी हथेली पर दूसरों ने खींची पिंजरे की रेखाएं। जहां उन्‍होंने कैद कर दी उसकी जीवन गाथा। और अरब का बेटा, मैं मुझे नफरत है कैद में रखे पंछी से।...
anup sethi
280
सलमान मासाल्‍हा की कविताएं                                 एल मुनुस्‍वामी की चित्रकृतिजालहर बार मैं चलता...
anup sethi
280
सलमान मासाल्‍हा की कविताएं                                       परितोष सेन...
anup sethi
280
सलमान मासाल्‍हा की कविताएं                                  एल मुनुस्‍वामी की चित्रकृति विस्‍मृतिअजनबी लोग बैठते है...
anup sethi
280
सलमान मासाल्‍हा की कविताएं                                       &nbsp...