ब्लॉगसेतु

sanjiv verma salil
6
श्री संजीव वर्मा सलिल के प्रति काव्यांजलि,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,अंतर्मन से कलकल बहती रसधार सलिल की कविता हैजीवन का सत्य समाहित है उपहार सलिल की कविता हैयुग बोध कराती जन-जन के आक्रांत क्लांत मानव मन कोअंतस के छिपे पहलुओं का आधार...
अरुण कुमार निगम
204
sanjiv verma salil
6
काव्यांजलि:अमर शहीद कुंवर सिंहसंजीव*भारत माता पराधीन लख,दुःख था जिनको भारीवीर कुंवर सिंह नृपति कर रहे थे गुप-चुप तैयारीअंग्रेजों को धूल चटायी जब-जब वे टकरायेजगदीशपुर की प्रजा धन्य थी परमवीर नृप पायेसमय न रहता कभी एक सा काले बादल छायेअंग्रेजी सैनिक की गोली लगी घाव क...
sanjiv verma salil
6
काव्यांजलि:अमर शहीद कुंवर सिंहसंजीव*भारत माता पराधीन लख,दुःख था जिनको भारीवीर कुंवर सिंह नृपति कर रहे थे गुप-चुप तैयारीअंग्रेजों को धूल चटायी जब-जब वे टकराये जगदीशपुर की प्रजा धन्य थी परमवीर नृप पायेसमय न रहता कभी एक सा काले बादल छायेअंग्रेजी सैनिक की गोली लगी घाव...