पूरी रात जागता रहासपने सजाता,तुम आती थीं, जाती थींफिर आतीं फिर जातीं ,परन्तुयादें करवट लिए सो रही थींसुबह,यादों ने ही मुझे झझकोराऔर जगाया,जब मै जागायादें दूर खड़ी होघूर-घूर कर मुझे देखतीऔर मुस्कुरा रहीं थींमैंने कहाचलो हटो ,आज नई सुबह हैमै नई यादों के साथ रहूँगावे...