ब्लॉगसेतु

kumarendra singh sengar
24
बच्चों के लिए जुलाई का आना पिछले वर्ष तक उत्साह का समय होता था. इस वर्ष गर्मियों की छुट्टियाँ आईं भीं और चली भी गईं मगर छुट्टियों जैसा माहौल न बना सकीं. इन गर्मियों में सभी अपनी-अपनी जगह कैद होकर रहे. न कोई कहीं घूमने जा सका, न बच्चे लोग अपनी दादी-नानी के घर जा सके...
kumarendra singh sengar
24
क्या हम लोग गाँवों की तरफ लौटना पसंद करेंगे? क्या हम शहर की भौतिकतावादी ज़िन्दगी को आज तक जीने के बाद अब गाँव में जीवन बिताना स्वीकार करेंगे? ऐसे और भी सवाल उस समय भी उठे थे जबकि चीनी वायरस कोरोना के चलते लगाये गए लॉकडाउन में मजदूरों की, श्रमिकों की वापसी गाँव के लि...
Ramesh pandey
283
लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के संस्थापक डा. जगदीश गाँधी एवं उनकी पत्नी डा. (श्रीमती) भारती गाँधी ने अपनी व्यक्तिगत सम्पत्ति की घोषणा बेवसाइट www.jagdishgandhiforworldhappiness-org/assets-htmlपर कर दी है। दोनों के पास कुल मिलाकर रू. 20,72,083/- (बीस लाख बहत्तर हजार त...
sanjay krishna
235
चर्च रोड स्थित संत पॉल स्कूल के मैदान में महात्मा गांधी ने 17 सितंबर, 1925 को अपराह्न तीन बजे एक सभा को संबोधित किया था। सभा में रांची की जनता की ओर से उन्हें एक मानपत्र तथा देशबंधु स्मारक कोष के लिए एक हजार एक रुपये की थैली भी भेंट की गई थी।   गांधीज...
अजय  कुमार झा
638
दिन 27 जुलाई 2019समय प्रातः आठ बजेस्थान : अर्वाचीन भारती भवन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दिल्लीअवसर : विद्यालय में अभिभवक शिक्षक विद्यार्थी मिलनआज का दिन इतना खूबसूरत बनेगा सोचा नहीं था | कल शाम को बच्चों के स्कूल से अध्यापकों का फोन आया कि ,एक नए प्रयोग के रूप में हम...
Kajal Kumar
18
दिनेशराय द्विवेदी
57
वकालत में 40 साल से ऊपर हो गए हैं। कॉलेज छोड़े भी लगभग इतना ही अरसा हो गया। वकालत के शुरू में हाथ से बहुत लिखा। उस वक्त तो दरख्वास्तें और दावे भी हाथ से लिखे जा रहे थे। टाइप की मशीनें आ चुकी थीं। फिर भी हाथ से लिखने का काम बहुत होता था। मैं टाइप कराने के पहले दावे...
VMWTeam Bharat
112
भारतवर्ष मेधा की खान है । आदि गुरु शंकराचार्&#235...
mahendra verma
278
(मेरे पिछले पोस्ट का दूसरा भाग)दिसंबर 2016, संसद का शीतकालीन सत्र । सदन में भारत शासन से पूछे गए दो दो प्रश्न और संबंधित ‘मिनिस्टर’ द्वारा दिए गए उनके उत्तर-प्र.1.  क्या यह सच है कि वैदिक गणित परंपरागत विधि से अधिक तीव्र गति से गणितीय प्रश्न हल करने में सक्षम...
Akshitaa (Pakhi)
125
देश के विभिन्न भागों में रहते हुए विभिन्न स्कूलों में पढ़ने का अपना आनंद है। हमने अपनी स्कूलिंग उत्तर प्रदेश में कानपुर से आरम्भ की और उसके पश्चात् पोर्टब्लेयर (अण्डमान-निकोबार द्वीप समूह), इलाहाबाद, जोधपुर (राजस्थान) और अब लखनऊ। राजधानी लखनऊ में हमने सिटी मॉन्टेसरी...