ब्लॉगसेतु

अनंत विजय
58
चित्रा मुद्गल हिंदी की वरिष्ठ कथाकार हैं। अपने जीवन में पचहत्तर बसंत देख चुकी चित्रा मुद्गल पिछल छह दशक से सृजनरत हैं। उनको साहित्य अकादमी समेत कई प्रतिष्ठित पुरस्कार मिल चुके हैं। उन्होंने गुजराती और मराठी में भी कविताएं लिखी हैं। ुउन्होंने दिल्ली शहर के अपने...
Bharat Tiwari
18
कृष्णा सोबती: प्रतिरोध की आवाज़ [krishna sobti jivan parichay in hindi]—ओम थानवी कृष्णाजी से पाठक के नाते मेरा रिश्ता पुराना था। दिल्ली आने के बाद कुँवर नारायण, कृष्ण बलदेव वैद, राजेंद्र यादव, निर्मल वर्मा, केदारनाथ सिंह, अशोक वाजपेयी आदि से तो जल्द निकट के स...
Bharat Tiwari
18
कृष्णा सोबती की कहानी आज़ादी शम्मोजान की 'भूरे-भूरे' उसने आवाज़ लगाई। शम्मोजान की सीढ़ियों पर बैठा भूरा किसी नौजवान छोकरे को हाथ के इशारे से शम्मो के शरीर का नाप बतलाते हुए ऊपर आ पहुँचा और बोला, 'हाँ, बाई आज झण्डियाँ लोगी न?'तिरंगों की छाया में शुभ्रवसना नग...
विजय राजबली माथुर
102
रियर व्यू मिरर : * जज ने कहा, अमृता प्रीतम को तो मैं जानता हूं, पर कृष्णा सोबती का नाम नहीं सुना। तब उन्होंने कठघरे से कहा, ‘मैं उस भाषा की लेखिका हूं जो इस देश की राष्ट्रभाषा है।’ ** वर्तमान सरकार के गद्दीनशीन होने के बाद उनका एकमात्र विषय चौड़ी छात...
Bharat Tiwari
18
Photo (c) Krishna Sobtiकृष्णा सोबतीजी की "मार्फ़त दिल्ली" पढ़ रहा हूँ. मैं, साहित्य आदतन तोड़ा धीरे-धीरे ही पढ़ता हूँ. और तब तो ठहर-ही जाता हूँ जब कुछ पढ़े जा रहे से कोई विचलन पैदा हो जाती है. कल रात 'पितृ हत्या' पढ़ते हुए ऐसा ही हुआ. रुक गया  अब कृष्णाजी से बात हो...
अनंत विजय
58
उम्र के नब्बे पड़ाव पार कर चुकी लेखिका कृष्णा सोबती जी को ज्ञानपीठ पुरस्कार देने का एलान किया गया । ज्ञानपीठ सम्मान देनेवाली जूरी के नामवर सिंह अध्यक्ष हैं। यह उनके कार्यकाल का अंतिम वर्ष है । उनके पुरस्कार के एलान के बाद साहित्यक हलके में इस बात को लेकर चर्चा है क...
Bharat Tiwari
18
आखिर कौन से आंतरिक या बाहरी दबाव है जिनकी चुनौती से हमारी पुरानी परम्परा, सनातन शिखर समतल मैदान में बदल जाएंगे। क्या सचमुच? — कृष्णा सोबतीKrishna SobtiBhartiya Sanskriti aur Mulya भारतीय संस्कृति और मूल्यकृष्णा सोबतीराजनीतिज्ञों ने अपना विश्वास और चमक दोनों खो...
Bharat Tiwari
18
Photo (c) Bharat Tiwariकृष्णा सोबती की कविता वैदिक है क्रान्तिक्रान्ति   क्रान्ति   भारत में   क्रान्तिनहीं है यह  कोई भ्रान्तियह महान  धरना है  वैदिक क्रान्तिगायों को बचाओ   और नागरिकों को मारो  &nbs...
Bharat Tiwari
18
मोदीजी के नाम कृष्णा सोबती का सन्देश(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); राष्ट्रपति चुनाव में जातिवाद का कोई विवाद नहीं चाहते— कृष्णा सोबतीमहादेश भारत के प्रधानमंत्रीहम भारतीय लोकतंत्र की महिला नागरिक राष्ट्रपति चुनाव में जातिवाद का कोई विवाद नही...
Bharat Tiwari
18
चतुर बनिया पार्टी !— कृष्णा सोबतीसाहित्य अकादमी सम्मानित कृष्णा सोबतीजी 92 वर्ष की युवा हैं. बीते दिनों उनकी तबीयत ठीक नहीं रही और वह हफ्ता नर्सिंग होम में बिताकर कल घर लौटीं. रात में उनसे बात हो रही थी और उन्होंने कहा, "अस्पताल में मैंने कुछ लिखा है तभी से सोच रही...