ब्लॉगसेतु

Madabhushi Rangraj  Iyengar
0
..............................
Atul Kannaujvi
0
— अतुल कन्नौजवीहे मनुष्यता के प्रतिपालक हे प्रति पालक हे मनुष्यताक्या भूल हुई क्या गलती है अब क्षमा करो हे परमपिता।अब राह दिखाओ दुनिया को मुश्किल सबकी आसान करोहे कायनात के संचालक सारे जग का कल्याण करो।ये कैसी विपदा है भगवन कैसा ये शोर धरा पर हैजो सदियों से जीवित है...
Kajal Kumar
0
 
Kajal Kumar
0
 
Kajal Kumar
0
 
Kajal Kumar
0
 
संतोष त्रिवेदी
0
नया साल आ गया है,साथ में नए संकल्प भी।जिसे देखो वही एक-दो संकल्प उठाए घूम रहा है।नए साल में कठिन से कठिन संकल्प लिए जाते हैं ताकि उनके पूरा न होने पर कम से कम ग्लानि का अनुभव हो।ढके और छुपे चेहरों से ग्लानि का कोई भाव वैसे भी नहीं दीखता।इससे यही ज़ाहिर होता है कि ए...
kumarendra singh sengar
0
वर्ष 2020 क्या हम लोगों को याद रहेगा? ये सवाल इसलिए क्योंकि विगत कुछ दिनों से सोशल मीडिया में, मीडिया में, आपसी बातचीत में इसी साल की चर्चा हो रही है. सभी लोग कामना कर रहे हैं कि ये बुरा साल (उनके हिसाब से) बीते और नया अच्छा साल आये. कुछ लोगों का कहना है कि यह वर्ष...
Sandhya Sharma
0
धरती माँ ने सहीअसह्य वेदनाजन्मा कोरोनाकभी रफ़्तार होती थीमायने ज़िंदगी कीथम गई दुनियाएक ही पल मेंधरा ने खोल दियाअपने घर का झरोखाआसमान साफ़ कियाआँगन बुहाराकुछ परिंदे उड़ा दिएकुछ सहेज लिये जल पवित्र किया नदियाँ जी उठीं  हवा शुद्ध कीअल्प साधनों में...
kumarendra singh sengar
0
इस वर्ष, 2020 का आज अंतिम दूसरा दिन, सेकेण्ड लास्ट डे है. पिछले कई दिनों से बहुत से मित्रों, परिचितों के सन्देश मिल रहे हैं जिसमें इस साल के बारे में उनके विचार पढ़ने को मिल रहे हैं. ये इंसानी फितरत होती है कि इन्सान अपने मनोभावों को तत्कालीन सन्दर्भों से जोड़कर व्यक...