ब्लॉगसेतु

Sanjay  Grover
704
संबंधित पिछली पोस्टकल फ़ेसबुक ने सूचना दी कि आपका पासवर्ड रीसेट करने के लिए कोड भेज रहे हैं, अगर यह कोशिश आपने नहीं की तो कृपया बताएं।मैंने बताया।ज़ाहिर है कि मेरा एकाउंट हैक होते-होते बचा।20-12-2018दूसरी घटना आज हुई।2016 के आसपास दो क़िताबें मैंने अमेज़न पर लगाईं थीं।...
रवीन्द्र  सिंह  यादव
306
नदी तुम माँ क्यों हो...?सभ्यता की वाहक क्यों हो...?आज ज़ार-ज़ार रोती क्यों हो...?   बात पुराने ज़माने की है जब गूगल जीपीएस कृत्रिम उपग्रह पृथ्वी के नक़्शे दिशासूचक यंत्र आदि नहीं थे एक आदमीअपने...
शिवम् मिश्रा
3
सभी हिंदी ब्लॉगर्स को नमस्कार। करीब 44 साल पहले आज ही के दिन इंसान ने धरती से बाहर तारों को पहला रेडियो मैसेज भेजा था. गूगल ने इंसान की इस उपलब्धि को सम्मानित करते हुए एक स्पेशल डूडल (Google Doodle On Arecibo Message) तैयार किया है. यह ब्रॉडकास्ट काफी शक्तिशाल...
दिनेश  प्रजापति
387
how to use Google mapनमस्कार मित्रों, स्वागत है आपका अपना-अंतर्जाल पे। दोस्तों आज के समय गूगल मैप्स (Google Map) का नाम सभी ने सुना है , और लगभग इस्तेमाल भी करते होंगे अलग-अलग काम के लिए। अपनी शुरुआत से लेकर अब तक गूगल मैप कई बदलावों से गुजरा है। इस दौरान इसके एप म...
दिनेश  प्रजापति
387
Popular Web Search Engineनमस्कार मित्रों, जैसा की सब जानते है की वेब पर किसी भी विषय के बारे में जानना हो तो ब्राउज़र के एड्रेस में लिखते है और सर्च कर लेते है, जो की ब्राउज़र में सेव पहले से ही डिफाल्ट सर्च इंजन हमें परिणाम दिखाता है।लेकिन वेब सर्च इंजिन क्या है? यह...
Yashoda Agrawal
5
सूरज सवेरे से जैसे उगा ही नहीं बीत गया सारा दिन बैठे हुए यहीं कहीं टिपिर टिपिर टिप टिप आसमान चूता रहाबादल सिसकते रहे जितना भी बूता रहासील रहे कमरे में भीगे हुए कपड़े चपके दीवारों पर झींगुर औ' चपड़े ये ही हैं साथी और...
शिवम् मिश्रा
3
सभी हिंदी ब्लॉगर्स को नमस्कार। दिलीप सरदेसाई का आज 78वां जन्मदिन है। वह भारत के मशहूर क्रिकेटर रहे। दिलीप को धीमी गेंदों के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी के लिए जाना जाता था।'नवयुग आदमी' के नाम से लोकप्रिय दिलीप सरदेसाई का जन्म 8 अगस्त 1940 को हुआ था। 1959-60 में अंत...
Yashoda Agrawal
355
एक लड़की की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ एक सीधे - साधे लड़के से की जाती है जिसके घर मे एक मां के आलावा और कोई नहीं है। दहेज मे लड़के को बहुत सारे उपहार और पैसे मिले होते हैं ।लड़की किसी और लड़के से बेहद प्यार करती थी और लड़का भी...लड़की शादी हो के आ गयी अपने ससुराल......
 पोस्ट लेवल : वकील शर्मा गूगल+ से
Yashoda Agrawal
9
रुको ! जरा ठहरो।मत डालो खलल मेरी नींदों मेंअभी ही तो मैंने सपनों के बीज बोए हैंअभी ही तो ख्वाबों के अंकुर फूटे हैंउम्मीदों की नर्म गीली मिट्टी परअभी ही तो हसरतों की कलियां गुनगुनाई हैंतितलियाँ खुशियों को अभी उड़ने तो दोरंगत उपवन की निखर जाने दोमत डालो खलल मेरी नींदो...
 पोस्ट लेवल : पूजा पूजा गूगल+
Yashoda Agrawal
5
कभी सोचता हूँयह सारी चकल्लसछोड़के दुनिया सेसंन्यास ले लूँलेकिन क्या इससेकोई फरक पड़ेगासंन्यासी अपनी पुरानीअस्मिता को नकार देता हैअपना ही श्राद्ध कर देता हैलेकिन फिर नया नाम लेता हैनई अस्मिता शुरू करता हैऔर वही मुसीबतेंवही चकल्लस फिर शुरू हो जाती हैंपहले लाला स...