ब्लॉगसेतु

अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन।                  नाम है सोशल मीडिया जिसका हिंदी में अर्थ सामाजिक संचार माध्यम ही हो सकता है लेकिन अब यह सोशल नहीं एंटी सोशल मीडिया बन चुका है। धीरे-धीरे इसमें दर्ज़ होने वाली घटनाओं,चर्चाओं, शोध और विश्...
अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन।महाराष्ट्र की नई सरकार ने सत्ता संभालते ही एक महत्त्वपूर्ण फ़ैसला लिया कि आरे के जंगल अब नहीं काटे जायेंगे जिसे मेट्रो कार शेड बनाने के लिये रात के अँधेरे में काटा जा रहा था। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बावजूद भी पेड़ों की कटाई अवैध तरीक़ों स...
अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन।*****गीत "कारा में सच्चाई बन्द है" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')  उच्चारण *****मौसम 26वाँ तुम, जैसे, गुनगुनी सी हो कोई धूप,मोहिनी सी, हो इक रूप,तुम्हें, रुक-रुक कर, छू लेती हैं पवन,ठंढ़ी आँहें, भर लेती है चमन,ठहर जाते हैं, ये...
अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन।               'शिक्षा सबके लिये' का मिशन अब सरकार की मंशा से अलग हो चुका है। शिक्षा को कारोबार में बदलने और इसे सिर्फ़ सक्षम वर्ग के लिये सुनिश्चित करने के लिये अब सरकार की नीतियों में चालाकीभरी दूरदृष्टि अब...
अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन। आज की चर्चा में प्रस्तुत हैं कुछ नई-पुरानी रचनाएँ -9 नवम्बर 2019 को अयोध्या के 134 साल पुराने राम जन्मभूमि-मस्जिद विवाद पर आये माननीय सर्वोच्च न्यायालय के ऐतिहासिक फ़ैसले पर पढ़िए आदरणीय शास्त्री जी की दोहावली-दोहे "स्वर्णिम इतिहास" (डॉ....
अनीता सैनी
1
सादर अभिवादन। "सीने में जलन और आँख में तूफ़ा-सा क्यों है।   इस शहर में हर शख़्स परेशान-सा क्यों है।।"  फ़िल्म 'गमन' (1978) की एक ग़ज़ल का शेर जिसे मशहूर शायर शहरयार साहब ने क़लमबद्ध किया जो आज दिल्ली की जनता के हालात बयां करता हुआ जी उठ...
अनीता सैनी
1
..............................
अनीता सैनी
1
..............................
अनीता सैनी
1
..............................
अनीता सैनी
1
..............................