ब्लॉगसेतु

Harsh Wardhan  Jog
0
शनिवार की छुट्टी आ गई थी और रविवार को तो होती ही है इसलिए नरूला जी बहुत रिलैक्स थे. सुबह बैंक के लिए तैयार हुए तो बैग भी पैक कर लिया. बैंक जाते हुए रास्ते में मोटरसाइकिल की टंकी फुल करा ली हवा भी चेक करा ली. बैंक पहुँच कर हाजिरी लगाई और ब्रांच के सेकंड मैन के कान म...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
हमारे रीजनल मैनेजर गोयल साब आज झुमरी तलैय्या ब्रांच के दौरे पर हैं. झुमरी ब्रांच को आप छोटा ना समझें सर. है तो गाँव में पर साठ करोड़ का लोन तो अकेले चीनी मिल का है और किसानों के लोन और जमा खाते अलग. ये जरूर है की चीनी मिल छे महीनें बंद रहती है तो काम हल्का हो जाता ह...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
शादी का कार्ड आया है तो तैयारी तो करनी ही पड़ेगी. वैसे भी हमारे गोयल साब को दो साल हो गए बैंक से रिटायर हुए मगर दावत खाने का मौका ही नहीं मिल रहा था. यार दोस्त सब भूल भाल गए कमबख्त बुलाते ही नहीं. और फिर कोरोना ने भी घरबंदी कर रखी...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
बैंक के लिए डिपाज़िट इकट्ठा करना ऐसा ही है जैसे किसी फैक्ट्री के लिए रॉ मेटेरीयल इकट्ठा किया जाता है. डिपाज़िट नहीं होगा तो लोन कैसे होगा? इसलिए डिपाज़िट लाने के लिए बहुत सी तरकीबें लगानी पड़ती हैं, स्कीम बनानी पड़ती हैं और घूम घूम कर संपर्क बनाने पड़ते हैं. ये काम तो प्...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
शौपिंग चाहे कपड़े की हो या सब्ज़ी की गोयल साब को झंझट का काम ही लगता है. ये बात और है की कपड़े अगर मॉल से लें तो पिकनिक का मज़ा आ जाता है. ए सी हॉल में घूमना हो जाता है और फिर कुछ खाना पीना भी हो जाता है. किसी किसी मॉल में सब्जी और फल की दूकान या काउंटर लगा होता है वहा...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
बैंकों में आजकल लोन के अलावा सोने के सिक्के, इन्शोरेन्स, मेडिक्लैम, म्यूच्यूअल फण्ड भी मिलने लगे हैं. पहले ये सब झमेला नहीं था. अब इसे झमेला ना कह कर  'फाइनेंशियल लिटरेसी' कहा जाने लगा है. याने पैसे कहाँ लगाने हैं और ब्याज ज्यादा कहाँ मिलेगा ये बताया...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
बैंक में ऑडिट बहुत होता है. जितनी ज्यादा बिज़नेस होगा उतनी बड़ी ब्रांच होगी और उतने ही ज्यादा ऑडिटर आएँगे. एक तो घरेलू या इंटरनल ऑडिटर होते हैं ये साल में एक बार आते हैं. एक और इंटरनल ऑडिटर भी हैं जिन्हें कनकरंट ऑडिटर कहते हैं. ये बड़ी ब्रांच में बारहों महीने बैठे रहत...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
अखबार में कुछ दिनों पहले खबर छपी थी कि जापान एयरलाइन्स भविष्य में अपने हवाई जहाज़ में इस तरह से घोषणा नहीं करेंगे - गुड मोर्निंग लेडीज़ & जेंटलमेन. अब जापानी एयर होस्टेस दूसरी तरह से घोषणा करेगी - 'गुड मोर्निंग एवरीवन' या फिर 'गुड मोर्निंग पैस्सेंजर्स'. ब्रिटेन म...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
पंजाबी बोलना सीखना चाहिए या फिर बंगाली बोलना? या फिर दोनों? पर मुश्किल तो ये हो रही है की सिखाए कौन. मनोहर जी आजकल बैंक में काम कर रहे हैं और रहने वाले हैं गाँव कसेरू खेड़े के. अब खेड़े में ये दोनों भाषाएँ बोलने बताने वाला कोई है नहीं. तो मनोहर जी उर्फ़ हमारे मन्...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते
Harsh Wardhan  Jog
0
जनरल मैनेजर( रिटायर्ड ) गोयल साब ने शाम की तैयारी शुरू कर दी. नहा धो के चकाचक कुरता पायजामा पहन लिया. सिर पर जुल्फों के नाम पर गिनती के चार बाल बचे थे, उन पर प्यार से कंघी फेरी क्यूंकि बेशकीमती जो हैं. डाइनिंग टेबल पर दो बियर के गिलास, एक प्लेट में चखना और फ्रिज मे...
 पोस्ट लेवल : चलते चलाते