ब्लॉगसेतु

शिवम् मिश्रा
33
 " 'मृतक 'ने तुमसे कुछ नहीं लिया | वह अपने लिए कुछ नहीं चाहता था | उसने अपने को देश को समर्पित कर दिया और स्वयं विलुप्तता मे चला गया |"- महाकाल "महाकाल" को १२१ वीं जयंती पर हम सब का सादर नमन ||आज़ाद हिन्द ज़िंदाबाद ... नेता जी ज़िंदाबाद ||जय हिन्द !!!
विजय राजबली माथुर
73
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं ) महात्मा गांधी जी के जन्मदिवस को  अंतर्राष्ट्रीय जगत में ' अहिंसा दिवस ' के रूप में मनाया जाता  है जो कि, एक आदर्श स्तुत्य कदम है। लेकिन...
शिवम् मिश्रा
19
सभी हिन्दी ब्लॉगर्स को मेरा सादर नमस्कार।रामचन्द्र शुक्ल (अंग्रेज़ी: Ramchandra Shukla, जन्म- 4 अक्टूबर, 1884, बस्ती ज़िला, उत्तर प्रदेश; मृत्यु- 1941 ई. भारत) बीसवीं शताब्दी के हिन्दी के प्रमुख साहित्यकार थे। उनकी द्वारा लिखी गई पुस्तकों में हिन्दी साहित्य का इतिह...
Roli Dixit
154
क्या होगा इसके अलावाकि हम प्रतिमाओं परमाल्य...
शिवम् मिश्रा
19
सभी हिंदी ब्लॉगर्स को मेरा सादर नमस्कार।पंडित दीनदयाल उपाध्याय (जन्म:25 सितंबर, 1916 - मृत्यु: 11 फ़रवरी 1968) भारतीय जनसंघ के नेता थे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय एक प्रखर विचारक, उत्कृष्ट संगठनकर्ता तथा एक ऐसे नेता थे जिन्होंने जीवनपर्यंन्त अपनी व्यक्तिगत ईमानदारी व स...
शिवम् मिश्रा
19
सभी ब्लॉगर मित्रों को मेरा सादर नमस्कार।।तुलसीदास जयंती विक्रम संवत् के अनुसार श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी को मनाई जाती है। अधिकतर विद्वान् महाकवि गोस्वामी तुलसीदास का जन्म इसी दिन मानते हैं। सम्पूर्ण भारतवर्ष में महान ग्रंथ रामचरितमानस के रचयिता गोस्वामी तु...
Asha News
309
आज माता बगलामुखी व्रत 3 मई 2017 को है। बगला शब्द संस्कृत भाषा के वल्गा का अपभ्रंश है, जिसका अर्थ होता है दुलहन है अत: मां के अलौकिक सौंदर्य और स्तंभन शक्ति के कारण ही इन्हें यह नाम प्राप्त है। देवी बगलामुखी तंत्र की देवी है. तंत्र साधना में सिद्धि प्राप्त करने के ल...
Asha News
309
स्वयंसिद्घ मुहूर्त कही जाने वाली अक्षय तृतीया (आखा तीज) अनेक वर्षों पश्चात् अमृतसिद्घि योग के महासंयोग में आ रही है। इस योग में स्नान, दान तथा मांगालिक कार्यों का फल कई गुना अधिक शुभ माना गया है। ज्योतिषाचार्य पंडित दयानन्द शास्त्री के अनुसार ग्रहगोचर की दृष्टि...
VMWTeam Bharat
106
सामाजिक आज़ादी के बिना क़ानूनी स्वतंत्रता बेम...
अनंत विजय
54
बहुत पुरानी कहावत है कि सच्चा प्यार कभी मरता नहीं है लेकिन फिल्मी प्यार को कई बार खत्म होते देखा गया है । बॉलीवुड की चमकती दमकती दुनिया में कोई चाहे किसी को भी कितना भी प्यार करे कई बार उसको खत्म होने में कोई वक्त नहीं लगता है । फिल्मी प्यार के पनपने, परवान चढ़ने औ...