ब्लॉगसेतु

sanjay krishna
245
कोरवा आदिम जनजाति है। माना जाता है कि यह झारखंड में मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ से आई है। कोरवा भी मुंडा जनजाति की उपशाखा है। इनका संबंध महान कोलेरियन प्रजाति से है। गढ़वा के 12-13 गांवों में इनकी प्रमुख आबादी है। वैसे, लातेहार, पलामू, चतरा, कोडरमा, दुमका व जामताड़ा में...
 पोस्ट लेवल : कोरवा आदिम जनजाति
3
--नहीं भूलना चाहिए, वीरों का बलिदान।सीमाओं पर देश की, देते जान जवान।।--उनकी शौर्य कहानियाँ, गाते धरती-व्योम।आजादी के यजन में, किया जिन्होंने होम।।--आज हमारे देश में, सबसे दुखी किसान।फाँसी खा कर मर रहे, धरती के भगवान।।--अमर शहीदों का जहाँ, होता हो अपमान।सिर्फ कागजों...
sanjiv verma salil
6
छंद शाला* विजाति छंद* मापनी-१२२२ १२२२*सूत्र -यरगग*निहारा क्या?गुहारा क्या?कहो क्या साथ लाया था?कहो क्या साथ जायेगा?रहेंगे हाथ खाली ही -न कोई साथ आयेगाबनाया क्या?बिगाड़ा क्या?न कोई गीत है तेरान कोई मीत है तेरासुनेगा बात ना कोईलगेगा व्यर्थ ही टेराअँधेरा क्या?सवेरा क्य...
sanjiv verma salil
6
छंद शाला* विजाति छंद* मापनी-१२२२ १२२२*सूत्र -यरगग*निहारा क्या?गुहारा क्या?कहो क्या साथ लाया था?कहो क्या साथ जायेगा?रहेंगे हाथ खाली ही -न कोई साथ आयेगाबनाया क्या?बिगाड़ा क्या?न कोई गीत है तेरान कोई मीत है तेरासुनेगा बात ना कोईलगेगा व्यर्थ ही टेराअँधेरा क्या?सवेरा क्य...
 पोस्ट लेवल : विजाति छंद
PRAVEEN GUPTA
95
साभार: चेतना सन्देश 
sanjay krishna
245
झारखंड की सबसे प्राचीन जनजाति असुर हैं। दुनिया को लोहा गलाने की तकनीक असुर की देन है। असुर का फैलाव झारखंड में ही नहीं, छत्तीसगढ़ में भी है। दुनिया में देखें तो असीरिया को भी असुर का प्राचीन देश माना जाता है। खूंटी से लेकर गुमला-नेतरहाट की तलहटी में इनका निवास है।...
 पोस्ट लेवल : असुर जनजाति
ज्योति  देहलीवाल
24
दोस्तो, दिवाली आने वाली हैं...आजकल जैसे ही कोई हिन्दू त्यौहार आने वाला होता है, सोशल मीडिया, जैसे कि फेसबुक और व्हाट्सएप आदि पर हिंदुओं के त्योहारों पर निशाना साधा जाता हैं। ज्यादातर हिंदुओं को हमेशा यह शिकायत रहती हैं हमारे देश में अमूमन हिंदुओं के त्योहारों और मा...
विजय राजबली माथुर
73
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं ) संकलन-विजय माथुर, फौर्मैटिंग-यशवन्त यश
sanjiv verma salil
6
विमर्श : जाति अनुगूँजा सिन्हाः मैं आपके प्रति पूरे सम्मान के साथ आपको एक बात बताना चाहती हूँ कि मैं जाति में यकीन नही रखती हूँ और मैं कायस्थ नहीं हूँ।अनुगून्जा जी! आपसे सविनय निवेदन है कि- 'जात' क्रिया (जना/जाया=जन्म दिया, जाया=जगजननी का एक नाम)...
 पोस्ट लेवल : विमर्श jati जाति
PRAVEEN GUPTA
95
तेली साहू जाति की सामाजिक व्यवस्थावैश्य समाज की घटक इकाइयों में यह सर्वाधिक प्राचीन इकाइयों में यह सर्वाधिक प्राचीन इकाइयों में से सर्वप्रथम नहीं तो प्रारंभिक एक - तो निविर्वाद रूप से है । समाज के आर्थिक स्वरूप के विाककास का इतिहास बतलाता है कि प्राकृतिक सम्पदा के...