ब्लॉगसेतु

Sanjay  Grover
310
Photo By Sanjay Groverग़ज़लआओ सच बोलेंदुनिया को खोलेंझूठा हंसने सेबेहतर है रो लेंपांच बरस ये, वोइक जैसा बोलेंअपना ही चेहराक्यों ना ख़ुद धो लेंराजा की तारीफ़जो पन्ना खोलें !क्या कबीर मंटो-किस मुह से बोलें !सबको उठना है-सब राजा हो लें ?वे जो थे वो थेहम भी हम हो लें बैन...
अनंत विजय
56
ओमपुरी जब स्कूल में थे उसी वक्त उनके मन में अभिनेता बनने की लललक पैदा हुई । जब वो नौंवी के छात्र थे तो उन्होंने एक फिल्म की ऑडीशन का विज्ञापन देखा और उसमें बताए गए पते पर अपनी अर्जी भेज दी । अर्जी भेजने के बाद उनके दिल की धड़कन तेज होती रहती थी हर दिन वो डाकिए का इ...
Sanjay  Grover
416
उपन्यासांशमेजर के ओंठ गोल हो गए।केस बहुत उलझा हुआ था। वह एक-एक तस्वीर ध्यान से देख रहा था।विरोधी ऐसे खड़े थे जैसे होली मिलने आए हों। कई तो वीडियो में भी मुस्करा रहे थे। खाने-पीने का विरोध कोई नहीं कर रहा था। वे ऐसी किसी चीज़ का विरोध कर रहे थे जो वहां कहीं हो ही नहीं...
विजय राजबली माथुर
206
.... जारी .....हालांकि मै सी पी आई मे न होकर सपा मे था किन्तु सी पी आई नेता कामरेड किशन बाबू श्रीवास्तव से घरेलू आधार पर आना-जाना था। डॉ शोभा /कमलेश बाबू के उपद्रवकारी रुख-रुझान को देखते हुये मैंने पूनम के पिताजी से निवेदन किया था कि यदि पटना मे कोई दूसरा आपसे प्रो...