** 10 अप्रैल 1986 को लखनऊ में प्रगतिशील लेखक संघ के स्वर्णजयंती समारोह के अवसर पर भीष्म साहनीजी और ज्ञानरंजन जी के साथ वीरेंद्र यादव जी .भीष्म साहनी - इतिहास को व्याख्यापित करता मानवीय चेहरा। :-वीर विनोद छाबड़ा  ०८ अगस्त २०१५. इसी दिन सौ वर्ष पूर्व प्रख्या...