ब्लॉगसेतु

Aamir  Ali
354
                              मुस्कान जिन्दगी में वो हैं तो जीने में है लुत्फो सुरूर ,गर नही वो साथ जीने का मज़ा कुछ भी नही .               ...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
                                                        तुम्हारी कमीमौसम भी खुश नुमा है तुम्हारी ही कमी सी है ,शमाएँ भी...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
सुबह मेरी खिलेगी सिर्फ उनके मुस्कुराने से ,मेरी तन्हाईयाँ मिट जाएँगी बस उनके आने से ,                                  मेरी हर शाम क्या हर सांस बिना उनके अधूरी है ,    &n...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
तुम्हारे प्यार को दिल में मै अपने Save कर लूँगा।जुदाई को हमेशां के लिए Delete कर दूंगा।                              ख्याल आये जो तेरे बाद किसी और का कभी ,         ...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
हवा खुशनुमा वादियाँ भी हसीं हैं ,तुझे याद करने को दिल चाहता है।                               मेरा आज सब दूरियों को मिटाकर ,                &nbsp...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
देश की आजादी की खातिर कई भूख प्यास से मर गये ,तो कितने सारे नवजवान जंग के मैदानों में मर गये।                                   अंग्रेज भारत को तोड़ने के अरमानो में मर गये ,&n...
 पोस्ट लेवल : व्यंग्य नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
मोहब्बत ना सही लेकिन मेरे अहसास रहने दो,मै लिखता हूँ तो लिखने दो मेरे जज़्बात रहने दो।                                         वो चाहे इस जहाँ में मेहफिलों की र...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
कुछ फुर्सत के लम्हात मिलें तो ,खुद से भी मिल लेना।लोगों से मिलते मिलते ,कितना अरसा गुजर गया।जिन्दगी की दौड़म भाग में ,खुद को ही क्यूँ भुला दिया।कभी किसी लम्हात में ,खुद से भी मिल लेना।शाम की ठंडी हवाएं ,और मौसम की फिजायें ,अक्सर तेरी तन्हाई को याद करती हैं।वक्त की...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
दिलाई जिन्होंने आजादी वो देश के नवजवान थे,आज के भारत को देखा की कुछ हिन्दू कुछ मुसलमान थे।                               धर्म के नाम पर आज सियासत किस कदर है हो रही ,     ...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर
Aamir  Ali
354
कहना तो चाहता था बहुत कुछ हमारा दिल ,ना लिख सका है ख़त में ना ही बता सका.                   यादों का सिलसिला तो यूँ बढ़ता चला गया ,                   ना रोक सका मै क...
 पोस्ट लेवल : नगमाते आमिर