ब्लॉगसेतु

Kajal Kumar
10
 पोस्ट लेवल : nag panchami Snake सांप नागपंचमी
sanjiv verma salil
6
लेख :नागको नमन : संजीव *नागपंचमी आयी और गयी... वन विभागकर्मियों और पुलिसवालोंने वन्य जीव रक्षाके नामपर सपेरों को पकड़ा, आजीविका कमानेसे वंचित किया और वसूले बिना तो छोड़ा नहीं होगा। उनकी चांदी हो गयी.पारम्परिक पेशेसे वंचित किये गए ये सपेरे अब आजीविका कहाँसे...
 पोस्ट लेवल : सपेरे sapere नागपंचमी nag panchami
sanjiv verma salil
6
विचारोत्तेजक लेख: कायस्थों का महापर्व नागपंचमी संजीव *कायस्थोंके उद्भव की पौराणिक कथाके अनुसार उनके मूल पुरुष श्री चित्रगुप्तके २ विवाह सूर्य ऋषिकी कन्या नंदिनी और नागराजकी कन्या इरावती हुए थे। सूर्य ऋषि हिमालय की तराईके निवासी और आर्य ब्राम्हण थे जब...
Bhavna  Pathak
86
त्योहारों का मौसम आया पकवानों की खुशबू लायानागपंचमी  रक्षाबंधनकृष्ण जन्म और गणपति वंदनदेते खुशियों के उपहार बच्चों को सारे त्योहारनवरात्री में दुर्गा पूजागरबा पे रंग चढ़े न दूजाविजयादशमी  दीपावली त्योहारों की रेल चलीक्रिसमस ढ़ेरों खुशियां ल...
sanjiv verma salil
6
आज नाग पन्चमी सुभद्रा जयन्ती*नाग पंचमी पर विधना ने विष हरने तुमको भेजासाथ महादेवी ने देकर कहाः 'सौख्य मेरा लेजा'.'वीरों के वसंत' की गाथा, 'मर्दानी' की कथा कही शिशुओं को घर छोड़ जेल जा, मन ही मन थीं खूब दहीं.तीक्ष्ण लेखनी से डरता था राज्य फिरंगी, भारत माँगर्व किया क...
sanjiv verma salil
6
विचारोत्तेजक लेख: कायस्थों का महापर्व नागपंचमी संजीव *कायस्थोंके उद्भव की पौराणिक कथाके अनुसार उनके मूल पुरुष श्री चित्रगुप्तके २ विवाह सूर्य ऋषिकी कन्या नंदिनी और नागराजकी कन्या इरावती हुए थे। सूर्य ऋषि हिमालय की तराईके निवासी और आर्य ब्राम्हण थे जबकि नागराज अनार्...
sanjiv verma salil
6
नवगीत:संजीव*विंध्याचल कीछाती पर हैंजाने कितने घावजंगल कटेपरिंदे गायबधूप न पाती छाँव*ऋषि अगस्त्य की करी वन्दनाभोला छला गया.'आऊँ न जब तक झुके रहो' कहचतुरा चला गया.समुद सुखाकर असुर सँहारेकिन्तु न लौटे आप-वचन निभाताविंध्य आज तकहारा जीवन-दाँव.*शोण-जोहिला दुरभिसंधि करमेक...
S.M. MAsoom
41
नागपंचमी का पर्व पूर्वी उत्तर प्रदेश में हिन्दू धर्म में सावन महीने से त्योहारों के शुरूवात का पर्व माना जाता है। नागपंचमी का पर्व सोमवार २३ जुलाई २०१२ को है। परम्परागत व हर्षोल्लास पूर्वक त्यौहार को मनाने के लिए रविवार को लोगों ने बाजार से नाग देवता के पोस्टर, धान...
Krishna Kumar Yadav
486
आज नागपंचमी का दिन है. इस दिन ब्रम्ह मुहूर्त में स्नान कर घर के दरवाजे पर या पूजा के स्थान पर गोबर से नाग बनाया जाता है। दूध, दुबी, कुशा, चंदन, अक्षत, पुष्प आदि से नाग देवता की पूजा की जाती है लड्डू और मालपुआ का भोग बनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन सर्प को द...
 पोस्ट लेवल : नागपंचमी
Krishna Kumar Yadav
486
नागपंचमी का त्योहार यूँ तो हर वर्ष देश के विभिन्न भागों में मनाया जाता है लेकिन उत्तरप्रदेश में इसे मनाने का ढंग कुछ अनूठा है। श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को इस त्योहार पर राज्य में गुडि़या को पीटने की अनोखी परम्परा है. नागपंचमी को महिलाएँ घर के पुराने क...
 पोस्ट लेवल : नागपंचमी