ब्लॉगसेतु

Ashish Shrivastava
0
लेखिका:  सिमरनप्रीत (Simranpreet Buttar) प्रकृति अपनी खूबसूरती से हमे आश्चर्य चकित करने का कोई मौका नही खोती है और इन प्रकृति द्वारा निर्मित इन खूबसूरतीयों मे से एक है निहारिकायें(Nebulae)। ’मूलभूत खगोलभौतिकी (Basics of Astrophysics)’ शृंखला के चौबीसवें लेख मे हम इ...
Ashish Shrivastava
0
महान यूनानी दार्शनिक अरस्तू ने कहा था कि मनुष्य स्वभावतः जिज्ञासु प्राणी  है तथा उसकी सबसे बड़ी इच्छा ब्रह्माण्ड की व्याख्या करना है। ब्रह्माण्ड की कई संकल्पनाओं ने मानव मस्तिष्क को हजारों वर्षों से उलझन में डाल रखा है। वर्तमान में वैज्ञानिक ब्रह्माण्ड की सूक्ष्मत...
Ashish Shrivastava
0
पूर्ण सूर्य ग्रहण के दौरान पैदा हुए ‘बेली बीड’ प्रभाव की यह तस्वीर ली है, चीनी फ़ोटोग्राफ़र यु जन ने. उन्हें इस तस्वीर के लिए ‘सूर्य कैटेगरी’ के साथ ही पूरी प्रतियोगिता का पहला पुरस्कार मिला है. इस तस्वीर के बारे में डेमियन पिच का कहना है कि...