ब्लॉगसेतु

kumarendra singh sengar
28
राजनीति करना, राजनीति में बिना किसी पद के बने रहना, राजनीति में चुनाव लड़ना, चुनाव लड़ने में उसका प्रबंधन करना आदि बहुत अलग-अलग प्रकृति की चीजें हैं. आज सांसद, विधायक निधि देख कर और किसी पद की आशा में राजनीति की तरफ भागे आ रहे लोगों को मालूम ही नहीं कि राजनीति महज सफ़...
अमितेश कुमार
172
राजेन्द्र पांचाल राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के स्नातक हैं. राजस्थान के कोटा शहर में रहकर रंगकर्म में सक्रिय हैं. प्रशिक्षु अभिनेता क्राफ्ट के साथ अपने व्यक्तित्व का विकास कैसे कर सकते हैं इसके लिए एक मॉड्यूल विकसित किया है, और एक लेख लिखकर उसको सार्वजनिक किया है. यह...
Kajal Kumar
7
 पोस्ट लेवल : upsc Leader politics परीक्षा exam नेता
Pawan Kumar Sharma
148
पवन कुमार, नई दिल्ली
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
217
..............................
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
217
..............................
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
217
..............................
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
217
..............................
विजय राजबली माथुर
96
Manish SinghSeptember 26 at 5:20 PM दो ध्रुवीय विश्व हमारी पीढ़ी ने देखा है। हमारी सरकारों को कभी रूस और कभी अमरीका की कृपा के लिए जतन करते देखा है। पर एक वक्त था, जब इनके बीच गुटनिरपेक्ष देश तीसरा ध्रुव थे, भारत इनका अगुआ था, और नेहरू इसका चेहरा।उस जमाने मे हम...
अनीता सैनी
12
जनाब कह रहे हैं  ख़ाकी और काला-कोट पगला गये हैं  और तो और सड़क पर आ गये हैं   धाक जमा रहे थे हम इन पर सफ़ेद पोशाक  पहन पितृ देव का रुतबा दिखा भविष्यवाणी कर रहे थे शब्दों का प्रभाव क्या होता है ख़ाकी और का...