कह दो  क़ुदरत क़ायनात से कुछ ऐसा, कश्मीर-सा सुन्दर उपहार सजा दे,करूँ नमन प्रतिपल वीर शहीदों को,हृदय को उनका द्वार दिखा दे |लिया भार,भारत माँ  का  कंधों  पर , उन वीर शहीदों की, चौखट के दीदार करा दे,पहन केसरिया किया जीवन अपना क़ुर्बान,...