ब्लॉगसेतु

विजय राजबली माथुर
74
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )इसी लाल चौक के एक होटल में हम लोगों (होटल मुगल शेरटन,आगरा के स्टाफ ) को 1981 में ठहराया गया था;वहाँ के मशहूर 'हाईलैंड फैशन्स' के मालिक गुलाम रसूल जान...
रणधीर सुमन
21
इन्दिरा गांधी के बाद भारत में अपने पैर जमाने का रास्ता साम्राज्यी शक्तियों के लिए साफ था। राजीव गांधी से उन्हें अपने विरोध की अधिक उम्मीद नहीं थी। साम्राज्यी शक्तियों ने राजीव को अपने जाल में फंसाने का ताना बाना बुनना प्रारम्भ कर दिया। अमरीकी पार्लियामेन्ट में उन्ह...
रणधीर सुमन
21
 साम्राज्यी शक्तियों को करारा झटका उस समय लगा जब उनके पिट्ठू पाकिस्तान ने भी भुट्टो के नेतृत्व में आर्थिक आत्मनिर्भरता की ओर अपने कदम बढ़ाने शुरू किए। भारत की सोशलिस्ट आर्थिक नीतियों पर चलते हुए भुट्टो ने भी अपने देश में कुटीर उद्योगों व घरेलू उद्योगों को बढ़ा...
रणधीर सुमन
21
साम्राज्यवादी शक्तियों ने वर्तमान समय में न केवल भारत बल्कि पूरे एशिया, दक्षिण एशिया, मध्य एशिया व अफ्रीका को अपने चंगुल में दबा रखा है और इन सभी राष्ट्रों में पूँजीवाद का दानव इंसानियत को शर्मसार करने वाले मजालिम ढाते हुए अपने मकसद को हासिल करने में लगातार जुटा हु...
विजय राजबली माथुर
97
 कल 30 मई को दिल्ली से चला आंधी तूफान आगरा आदि होते हुये रात्रि में लखनऊ में भी कुछ असर दिखा गया। मौसम विभाग के अनुसार 31 मई और 1 जून को भी बूँदा-बाँदी व आंधी प्रकोप हो सकता है।मई के महीने में उमस भरी गर्मी हो रही है अलबत्ता लू-प्रकोप कुछ कम है। यह सब जलवायु प...
Neeraj Kumar Neer
212
बीता कटु शीत शिशिर  मोहक  वसंत आया पुष्प खिले वृन्तो पर मुस्काये हर डाली. मादक महक चहुँ दिशा भरमाये मन आली. तरुण हुई धूप खिली शीत का अंत आया .बीता कटु शीत शिशिर  मोहक  वसंत आया .प्रिया की सांसों सीमद भरा ऊषा अनिल. &...
अजय  कुमार झा
35
शुरू में जब समाचार माध्यमों में उत्तराखंड में आई प्राकृतिक आफ़त के बारे में अकल्पनीय रूप से दुखद खबरें देखने सुनने को मिली तो अहसास हो गया कि देवभोमि फ़िर एक बार एक बहुत बडी आपदा की चपेट में आकर हज़ारों लोगों के असमय काल-कवलित हो जाने का कारण बनी । इसके बाद प्रशासन की...
kavita verma
250
आज समाचार पत्र में दो ख़बरें पढ़ीं .दोनों ही ख़बरें अगर सोचा जाये तो बहुत गंभीर चेतावनी देती हैं नहीं तो सिर्फ ख़बरें हैं. पहली खबर है नॅशनल जियोग्राफिक सोसायटी के एक सर्वे के बारे में है जो बताती है कि हमारी सनातनी परंपरा के चलते हम भारतीय पर्यावरण को हो...