ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
27
लप्रेक – है क्या यह? पढ़िए मुकेश कुमार सिन्हा की तीन लघु प्रेम कहानियाँउम्मीद शायद सतरंगी या लाल फ्रॉक के साथ, वैसे रंग के ही फीते से गुंथी लड़की की मुस्कुराहटों को देख कर मर मिटना या इंद्रधनुषी खुशियों की थी, जो स्मृतियों में एकदम से कुलबुलाई।मॉनसूनमेघों को भी...
E & E Group
12
अलौकिक प्रेम कहानीराधा-कृष्ण की अलौकिक प्रेम कहानी से हर कोई परिचित है। उन दोनों का मिलना और फिर मिलकर बिछड़ जाना, शायद यही उन दोनों की नियति थी। पौराणिक कथाओं में कृष्ण को रासलीला करते दर्शाया गया है, उन्हें एक प्रेमी और कुशल कूटनीतिज्ञ के रूप में प्रदर्शित किया गय...
Tejas Poonia
377
स्टार कास्ट:  जाह्नवी कपूर, ईशान खट्टर, आशुतोष राणा, रूप कुमार, श्रीधर, खराज मुखर्जी निर्देशक: शशांक खेताननिर्माता: करण जौहरसंगीत: अतुल-अजय भारतीय समाज में पहली प्रेम कथा से लेकर अब तक आने आने वाली प्रेमकथाओं का अधिकाँशत: दु:खद अंत ही हुआ ह...
मुकेश कुमार
170
सबसे पहले तो Ravish Kumar जी को शुक्रिया, एक बेहद संजीदे पत्रकार ने प्रेम के कथाओं को गढ़ने का नया तरिका इजाद किया :)उसके पहले Divya को भी थैंक्स, उनके टर्म्स एंड कंडीशन एप्लाय को पढ़ते हुए ही पहली बार लगा था कि ऐसी ढेरों कहानियां मेरे इर्द ग...
Bharat Tiwari
27
नायक — गिरिराज किशोरसेक्स के कई सच हैं। और सेक्स के सचों पर खूब लिखा भी गया है और लगातार लिखा भी जा रहा है। ये लिखना तब आज-का साहित्य है जब सेक्स-दृश्यों के वर्णन रीतिकालीन नहीं हों और वह मुद्दे से कतई न डिगे। देश में आयातित ‘एक्सचेंज’ संस्कृति, सेक्...
Bharat Tiwari
27
मेरा अज्ञात तुम्हें बुलाता हैस्नोवा बार्नोक्या वह हिंदी साहित्य-जगत का स्टिंग आॅपरेशन था? : अखबार, पत्रिकाएं और टीवी चैनल चिल्ला रहे थे : ‘‘इतनी अनोखी कहानियां और उपन्यास लिखने वाली स्नोवा बाॅर्नो कौन है और कहां है?’’हिंदी साहित्य के प्रमुख समीक्षक नामवरसिंह, परमान...
Bharat Tiwari
27
ऐसे तो शहर में कई दोस्त थे पर उसका हर किसी से घुलने मिलने का मन नहीं करता था और रोज़ रोज़ कब तक साथ के लिए भागो, अपने अकेलेपन से तो अकेले ही लड़ना होता है...चाँद पास हैइरा टाक जब से विक्रम सऊदी अरब जॉब करने गया था, उसकी पत्नी सुनैना बहुत अकेली पड़ गयी थी। वो दिल्ल...
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
Bharat Tiwari
27
Hindi Love Story by Madhu Kankaria'Chidiya Aise Marti Hain'प्रेम का होना ही है कि संसार दीख पड़ता है. प्रेम की चोली के दामन में सुख और दुःख दोनों एक सिक्के में गढ़े मढ़े होते हैं... और यह संसार जब कभी नहीं होगा तब प्रेम भी, लेकिन प्रेम की कहानी को कुछ नहीं होगा, वो तब...
Bharat Tiwari
27
'वेल... मुझे जंगलों में घूमना अच्छा लगता है ... कभी -कभी वीकेंड्स में मैं फिशिंग के लिये जाता हूँ अकेला ... और बैठा रहता हूँ घंटों अपनी छोटी सी बोट में ... बार बी क्यू में अपना फ़ूड पकाता हूँ ... पीता हूँ ... और सैड सॉंग सुनता हूँ एंड यू?' Humsafar'a love story...