आज सोच रहा हूँ बीते हुए कल के विषय में उलझ रहा हूँ भविष्य की योजनाओं में खाका खींच रहा हूँ आने वाले दिन की गतिविधियों काद्वंद्व है मन में भूत और भविष्य का. सोच रहा हूँ इनसान की फितरत के बारे मेंकहानी याद कर रहा हूँ आज तक के उसके सफर की समझ रहा हूँ उसकी भविष्य की यो...