ब्लॉगसेतु

Sanjay  Grover
393
‘अगर आपको भगवान के होने का सबूत चाहिए तो इस वीडियो को देखिए’ऐसा ही कुछ फ़ेसबुक पर लगे एक वीडियो के ऊपर स्टेटस में लिखा था, नीचे वीडियो में एक छोटा बच्चा सड़क पर अपना किनारा छोड़कर डिवाइडर की तरफ़ भाग पड़ता है। गाड़ियां धीरे-धीरे चल रहीं हैं, शायद लाल बत्ती अभी-अभी हरी हु...
Sanjay  Grover
408
उनके पास समाज है।उनके पास परिवार है। उनके पास धर्म है।उनके पास धर्मनिरपेक्षता है।उनके पास राजनीति है।उनके पास राजनीतिक पार्टियां हैं।उनके पास वाम है।उनके पास संघ है।उनके पास कवि हैं।उनके पास आलोचक हैं।उनके पास पक्ष है।उनके पास विपक्ष है।उनके पास निष्पक्ष है।उन...
Sanjay  Grover
408
लघुकथावह हमारे घरों, दुकानों, दिलों और दिमाग़ों में छुपी बैठी थी और हम उसे जंतर-मंतर और रामलीला ग्राउंड में ढूंढ रहे थे।-संजय ग्रोवर05-02-2017
Sanjay  Grover
408
सवा अरब लोग अगर एक हो जाएं तो क्या नहीं कर सकते ?और कुछ नही तो मिलजुलकर चुप तो रह ही सकते हैं।-संजय ग्रोवर14-01-2017
Sanjay  Grover
704
छोटी कहानीवे आए थे।श्रद्धा के मारे मेरा दिमाग़ मुंदा जा रहा था।यूं भी, हमने बचपन से ही, प्रगतिशीलता भी भक्ति में मिला-मिलाकर खाई थी।चांद खिला हुआ था, वे खिलखिला रहे थे, मैं खील-खील हुई जा रही थी।जड़ नींद में अलंकार का ऐसा सुंदर प्रदर्शन! मैंने ख़ुदको इसके लिए पांच अं...