ब्लॉगसेतु

Lokendra Singh
104
चंद्रमा पर चंद्रयान-2 के उतरने से पहले ही लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने को इस अभियान की असफलता नहीं माना जाना चाहिए। चंद्रमा के जिस हिस्से (दक्षिणी ध्रुव) पर आज तक कोई नहीं पहुँचा, वहाँ सॉफ्ट लैंडिंग का हमारा बड़ा लक्ष्य अवश्य था, किंतु यह चंद्रयान-2 का एकमात्र लक्ष...
Lokendra Singh
104
अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में भारत नित-नयी सफलताएं प्राप्त कर रहा है। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ‘इसरो’ ने 22 जुलाई को चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण करके अंतरिक्ष में सफलता की एक और लंबी छलांग लगाई है। इस उपलब्धि से सभी भारतीयों का स्वाभिमान भी चंद्रमा पर पहुंच गया है। भार...
Lokendra Singh
104
- लोकेंद्र सिंह -भारत के लिए पिछले तीन-चार दिन बहुत महत्वपूर्ण साबित हुए हैं। एक के बाद एक तीन विजयश्री भारत के खाते में आई हैं। सबसे पहले भारत ने सीमा पार जाकर आतंकी ठिकानों को नष्ट कर अपने शौर्य का परिचय दिया। उसके बाद आतंकियों को खुश करने की खातिर किए गए पाकिस्त...
Lokendra Singh
104
- लोकेन्द्र सिंह भारतीयता को स्थापित करने के मामले में उत्तरप्रदेश सरकार के प्रयास सराहनीय हैं। गत वर्ष से अयोध्या में दीपावली मनाने की शुरुआत कर उत्तरप्रदेश की योगी सरकार ने इस दिशा में बड़ी पहल प्रारंभ की थी। अब ऐतिहासिक, धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व के शहर क...
Lokendra Singh
104
- लोकेन्द्र सिंह 'हिंदू तन-मन, हिंदू जीवन, रग-रग हिंदू मेरा परिचय'पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ राजनीति के एक युग का अवसान हो गया है। यह युग भारतीय राजनीति के इतिहास के पन्नों पर अमिट स्याही से दर्ज हो गया है। भारत के लोकतांत्रिक मूल्यों, आदर्शो...
Lokendra Singh
104
 इस  वर्ष दो अक्टूबर से महात्मा गांधी की सार्धशती प्रारंभ हो रही है। गांधीजी और उनके विचारों का स्मरण करने का यह सबसे महत्वपूर्ण अवसर है। भाजपानीत केंद्र सरकार उनकी 150वीं जयंती को विशिष्ट ढंग से मनाना चाहती है। कुछ इस प्रकार कि महात्मा गांधी की 150वीं जय...
Lokendra Singh
104
 दीपावली  भारत का प्रमुख पर्व है। त्रेता युग में भगवान श्रीराम के अयोध्या आगमन के बाद दीपावली मनाई गई थी। श्रीराम 14 वर्ष का वनवास पूरा कर और अत्याचारी रावण का वध कर अयोध्या लौटे थे। समूची अयोध्या उनकी प्रतीक्षा कर रही थी। कार्तिक अमावस्या के अंधेरे को दू...
Lokendra Singh
104
 भारतीय  संविधान में 'वंदेमातरम्' को राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' के समकक्ष राष्ट्रगीत का सम्मान प्राप्त है। 24 जनवरी, 1950 को संविधान सभा ने 'वन्देमातरम्' गीत को देश का राष्ट्रगीत घोषित करने का निर्णय लिया था। यह अलग बात है कि यह निर्णय आसानी से नहीं हुआ था। सं...
Lokendra Singh
104
 पराजय  का इतिहास लिखने वाले इतिहासकारों ने बड़ी सफाई से भारतीय योद्धाओं की अकल्पनीय विजयों को इतिहास के पन्नों पर दर्ज नहीं होने दिया। शारीरिक तौर पर मरने के बाद जी उठने वाले देश इजरायल की आजादी के संघर्ष को जब हम देखेंगे, तब हम पाएंगे कि यहूदियों को 'ईश...
Lokendra Singh
104
 विश्व  के सबसे बड़े सांस्कृतिक संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने पिछले वर्ष ही अपने 90 वर्ष पूर्ण किए हैं। हम जानते हैं कि वर्ष 1925 में विजयादशमी के अवसर पर डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार ने एक बीज बोया था, जो आज ऐसा वटवृक्ष बन गया है कि उसकी छाया में राष्ट्री...